पहला पन्ना >राजनीति >बात Print | Share This  

रिश्वतखोर एसपी ने लगाया फंसाने का आरोप

रिश्वतखोर एसपी ने लगाया फंसाने का आरोप

चंडीगढ़. 19 अक्टूबर 2012

देशराज सिंह


चंडीगढ़ शहर के एसपी देशराज सिंह का कहना है कि उसे साजिश के तहत फंसाया गया है. उसने दावा किया है कि उन्होंने किसी से भी रिश्वत नहीं मांगी और ना ही उन्होंने अपने अधिनस्थ किसी पुलिस वाले को प्रताड़ित किया है.

गौरतलब है कि गुरुवार को सीबीआई की एंटी करप्शन टीम ने चंडीगढ़ शहर के एसपी देशराज सिंह को अपने ही एसएचओ अनोख सिंह से एक लाख रुपये की रकम बतौर रिश्वत लेते हुये सेक्टर 23 स्थित उनके घर पर रंगे हाथों पकड़ा था. देशराज के घर से डेढ़ लाख रुपये की और रकम भी बरामद की गई है.

आरोप है कि थाना-26 के एसएचओ अनोख सिंह से देशराज सिंह 5 लाख रुपये की रिश्वत मांग रहे थे. अनोख सिंह का कहना था कि एसपी लगातार उनके खिलाफ नये-नये मामले सामने ला कर प्रताड़ित कर रहे थे. एसपी देशराज सिंह ने अनोख सिंह को कहा था कि अगर वह विभागीय जांच खत्म करवाना चाहते हैं तो उसे हर महीने 5 लाख रुपये पहुंचाये. यह सब देशराज सिंह ने पुलिस मुख्यालय स्थित अपने कमरे में कही.

अनोख सिंह का कहना है कि इसके बाद उसने मामले की शिकायत अपने बड़े अफसर से भी की लेकिन बड़े अफसर ने भी नहीं सुनी तो अनोख सिंह मामले को सीबीआई तक ले गया. सीबीआई ने जब मामले को सही पाया तो देशराज सिंह के कहे अनुसार उसने अनोख सिंह को उसके घर रिश्वत की पहली खेप के बतौर 1 लाख रुपये की रकम के साथ भेजा. रकम लेने के बाद एसपी के घर पर सीबीआई ने रेड की और देशराज को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. मामले में दो बड़े अफसरों को गवाह बनाया गया और एसडीएम को भी सीबीआई ने अपने साथ रखा.