पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

बुद्धू राहुल पहले बड़े हो जाएं

बुद्धू राहुल पहले बड़े हो जाएं

नई दिल्ली. 2 नवंबर 2012

सुब्रमण्यम स्वामी


जनता पार्टी के अध्यक्ष सुब्रमण्यम स्वामी ने राहुल गांधी को 'बुद्धू' ठहराते हुये कहा है कि इस बुद्धू को मानहानि के कानून पर जानकारी लेने की जरूरत है. पब्लिक सर्वेंट और सांसद होने के नाते उन्हें यह साबित करना होगा कि जो कुछ मैंने कहा है, वह झूठ है, न कि मुझे यह साबित करना होगा कि जो कुछ मैंने कहा है वह सच है.

गौरतलब है कि जनता पार्टी के अध्यक्ष सुब्रमण्यम स्वामी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके बेटे कांग्रेस के महासचिव राहुल गांधी के यंग इंडियन कंपनी में 76 फीसदी शेयर हैं. कंपनी में राहुल गांधी के 3 लाख शेयर थे. इसमें उन्होंने 2.63 लाख शेयर बाद में प्रियंका गांधी को दिए. स्वामी के मुताबिक राहुल ने अपने चुनावी शपथ पत्र में इसकी जानकारी नहीं दी. स्वामी के मुताबिक राहुल ने अपने शपथ पत्र में बॉन्ड-शेयर की जानकारी में 'शून्य' लिखा था.

स्वामी ने यह भी कहा कि यंग इंडिया कंपनी को फाइनेंस करने के लिए गैरकानूनी तरीके से पब्लिक फंड का इस्तेमाल किया गया. कंपनी को ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी से 90 करोड़ का लोन मिला. उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली के आईटीओ में हेरल्ड हाउस 'यंग इंडिया' कंपनी का ही है. इसका एक हिस्सा 30 लाख रुपये महीने के किराए पर पासपोर्ट ऑफिस को दिए गए हैं. इस किराये का 76 प्रतिशत राहुल सोनिया गांधी और राहुल गांधी को जाता है.

स्वामी के आरोपों के बाद कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी ने कहा था कि स्वामी ने जितने भी आरोप लगाए हैं, वे सब पूरी तरह गलत और अपमानजनक हैं. राहुल ने कहा कि मुझ पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं. उन्होंने कहा कि ये सभी आरोप झूठे और अपमानजनक हैं और मैं इसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करूंगा. राहुल गांधी ने कहा था कि ये अभिव्यक्ति की आजादी का पूरी तरह उल्लंघन है. ये कानून में दी गई छूट का बेजा इस्तेमाल है. उन्होंने कहा कि वो स्वामी को जवाब देने के लिए कानून का सहारा लेंगे.

अब सुब्रमण्यम स्वामी ने राहुल गांधी को 'बुद्धू' ठहराते हुये कहा है कि इस बुद्धू को मानहानि के कानून पर जानकारी लेने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि राहुल को मेरी सलाह है कि वह पहले बड़े हों, कोर्ट में जाएं और मेरे खिलाफ मानहानि का केस दायर करें. मैं उनसे कोर्ट में लड़ूंगा.

राहुल गांधी द्वारा मानहानि का दावा करने की 'धमकी' पर स्वामी ने कोर्ट में मानहानि का मुकदमा दायर करने की चुनौती दी है. स्वामी ने यह भी कहा कि राहुल गांधी ने मुझे कोई पत्र भेजा हो या उनके वकील ने, मैं उन पत्रों को बिना पढ़े कूड़ेदान में फेंक दूंगा.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in