पहला पन्ना >राज्य >उ.प्र. Print | Share This  

सिर्फ मुसलमान ही गरीब नहीं: बेनी

सिर्फ मुसलमान ही गरीब नहीं: बेनी

बाराबांकी. 3 नवंबर 2012

beni prasad verma


केंद्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने उत्तर प्रदेश सरकार से सवाल पूछा है कि क्या सिर्फ मुसलमानों ही गरीब हैं? सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी सरकार पर निशाना साधते हुए वर्मा ने कहा कि सरकार मुसलमानों की बेटियों के विवाह और पढ़ाई के लिए 30-30 हज़ार रुपया बांट रही है, लेकिन सिर्फ राज्य के मुसलमान ही गरीब नहीं है. उन्होने कहा कि अगर 70 फीसदी मुसलमान गरीब हैं, तो 95 फीसदी अनुसूचित जाति, 25 फीसदी पिछड़े और 10 फीसदी सामान्य वर्ग के लोग बेहद गरीबी का जीवन जी रहे हैं. उन्होंने कहा कि सरकार को लाभ देने के लिए गरीबी को आधार बनाना चाहिए, न कि किसी समुदाय विशेष को फायदा देना चाहिए.

वर्मा ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने हमेशा से मुसलमानों को अपने वोट बैंक के रूप में देखा है और वह उन्हें खुश करने के लिए ही ऐसी नीतियां बना रही है. अखिलेश यादव सरकार पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में बढ़ रहे दंगों के पीछे सरकार का हाथ है, इसीलिए इस सरकार के आने के बाद से राज्य.में दंगे बढ़े हैं. उन्होंने कहा कि शुजागंज से लेकर फैजाबाद तक आठ घंटे तक दंगा होता रहा लेकिन किसी ने भी इसका संज्ञान नहीं लिया.

बेनी प्रसाद वर्मा ने दंगों के बारे में कहा कि राज्य में समाजवादी पार्टी और भाजपा मिलकर दंगे करा रहे हैं. सियासी फायदे के लिये ऐसा कर रही ये दोनों पार्टियां एक दूसरे की पूरक हैं. वैसे यह दिलचस्प है कि वर्मा ने कुछ दिनों पहले ही अखिलेश सरकार के लिए तारीफों के पुल बांधते हुए उसे सौ में से सौ नंबर दिए थे, लेकिन अब वे उस पर सवाल उठा रहे हैं.