पहला पन्ना >राजनीति >समाज Print | Share This  

हिमाचल को 20 दिसंबर का इंतजार

हिमाचल को 20 दिसंबर का इंतजार

शिमला. 5 नवंबर 2012

मतदान


हिमाचल प्रदेश की 68 विधानसभा सीटों पर रविवार को हुये मतदान के बाद अब सबको 20 दिसंबर की प्रतीक्षा है, जब मतगणना होगी और लोगों की पसंद जाहिर होगी. इस बीच राज्य के मुख्यमंत्री प्रेमकुमार धूमल ने कहा है कि इस बार भी सरकार हम ही बनाएंगे. भाजपा सरकार के कार्यकाल में प्रदेश में विकास हुआ है. केंद्र की कांग्रेस नीत यूपीए सरकार ने भ्रष्टाचार किया है. लोग सब जानते हैं, जीत भाजपा की होगी.

उधर विपक्षी दल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष वीरभद्र सिंह ने भी कहा है कि प्रचार में लोगों का जो सहयोग मिला, उसे देखते हुए लगता है कि कांग्रेस की जीत पक्की है. भाजपा सरकार के कार्यकाल में सिर्फ भ्रष्टाचार हुआ है, विकास नहीं. भाजपा वापसी के सपने देखना छोड़ दे.

राज्य की 68 विधानसभा सीटों के लिए रविवार को रिकॉर्ड 75 फीसदी मतदान हुआ. प्रदेश के विधानसभा चुनाव इतिहास में यह अब तक सबसे ज्यादा है. इससे पहले वर्ष 2003 में 74.51 फीसदी मतदान हुआ था. नालागढ़ में सबसे अधिक 94.08 फीसदी और शिमला में सबसे कम 58.77 फीसदी मतदान हुआ. चंबा में 75.27 फीसदी, कांगड़ा में 72.68, लाहौल-स्पीति में 68, कुल्लू 78.74, मंडी 76.95, हमीरपुर 70.33, ऊना 75.06, बिलासपुर 73, सोलन 80.34, सिरमौर 81.48, शिमला 69.85, किन्नौर 74.28 मतदान की खबर है. राज्य की 68 विधानसभा सीटों के लिए 459 उम्मीदवार मैदान में थे, जिनमें से 27 महिलाएं हैं. राज्य में 23,76,587 पुरुष मतदाताओं सहित 46,08,359 मतदाता हैं, जिनके लिए निर्वाचन आयोग ने 7,253 मतदान केंद्र बनाए थे.