पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

सफाई नहीं, माफी मांगें गडकरी

सफाई नहीं, माफी मांगें गडकरी

नई दिल्ली. 6 नवंबर 2012

नितिन गडकरी
 यह भी पढें

दाऊद और विवेकानंद का आईक्यू एक-गडकरी

दाऊद जैसे नहीं थे विवेकानंद

नरेंद्र मोदी को विवेकानंद बनाने की कोशिश


कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि विवेकानंद की दाऊद इब्राहिम से तुलना करने पर भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी को सफाई देने के बजाये माफी मांगनी चाहिये. सूचना प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी के ने कहा कि यह भाजपा की संस्कृति का उत्कृष्ट प्रदर्शन है. स्वामी विवेकाकंद की तुलना दाउद इब्राहिम से करना देश के सबसे बड़े बुद्धिजीवी का सबसे बड़ा अपमान है. स्पष्टीकरण से काम नहीं चलेगा, बीजीपी को सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए.

गौरतलब है कि भोपाल में आयोजित एक पत्रिका के कार्यक्रम में नितिन गडकरी ने कहा कि यदि दाऊद और विवेकानंद के आईक्यू को देखा जाए, तो एक समान पाई जाती. लेकिन एक ने इसका उपयोग गुनाह के लिए किया और दूसरे ने समाज के लिए.

नितिन गडकरी के इस बयान की विपक्षी दलों ने कड़ी आलोचना की है. उनके बयान पर मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने कहा है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का यह बयान शर्मनाक है. कांग्रेस ने कहा है कि नितिन गडकरी को पहले अपना आईक्यू टेस्ट करवाने की ज़रुरत है, जो बहुत कमजोर है.

इधर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने भाजपा अध्यक्ष का पुतला फूंका. बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुये कांग्रेस नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि मुझे गडकरी के विचारों पर दया आती है. गडकरी संघ के नुमांइदे हैं, यदि संघ की विचारधारा वही है जो गडकरी ने कहा है तो संघ को स्पष्टीकरण देना चाहिए. अभी भाजपा ने विवेकानंद संदेश यात्राएं निकाली थीं. अब भाजपा को दाऊद इब्राहिम यात्राएं निकालना चाहिए.