पहला पन्ना >राजनीति >महाराष्ट्र Print | Share This  

बाल ठाकरे का अंतिम संस्कार

बाल ठाकरे का अंतिम संस्कार

मुंबई. 18 नवंबर 2012

bal-thackeray


शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे का अंतिम संस्कार रविवार की शाम मुंबई में राजकीय सम्मान के साथ किया गया. उनके बेटे उद्धव ठाकरे के अलावा भतीजे राज ठाकरे भी मौजूद थे. इस मौके पर बड़ी संख्या में लोगों का सैलाब शिवाजी पार्क में उमड़ा. भाजपा नेता नितिन गडकरी, अरूण जेटली, सुष्मा स्वराज, गोपी नाथ मुंडे, लालकृष्ण आडवाणी और मेनका गांधी समेत भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेता भी अंतिम संस्कार में शामिल हुए. इसके अलावा राजीव शुक्ला, अमिताभ बच्चन, शरद पवार और अनिल अंबानी भी अंतिम संस्कार में शामिल हुये.

प्रशासन ने शिव सैनिकों के हंगामे के मद्देनजर 48 हजारे पुलिसकर्मियों को तैनात किया था. लेकिन कुछेक जगहों पर हंगामे के अलावा किसी बड़ी अप्रिय वारदात की खबर नहीं है. नवभारत टाइम्स के अनुसार पुलिस ने बताया कि लगभग 19 लाख लोग बाल ठाकरे की शव यात्रा में शामिल हुये.

गौरतलब है कि शनिवार को बाल ठाकरे के निधन की घोषणा की गई थी. वे 86 साल के थे. 23 जनवरी 1926 को मध्यप्रदेश के बालाघाट में जन्में बाल ठाकरे ने अपना करियर फ्री प्रेस जर्नल में बतौर कार्टूनिस्ट शुरु किया था. इसके बाद उन्होंने 1960 में अपने भाई के साथ एक कार्टून साप्ताहिक 'मार्मिक' की भी शुरुवात की. 1966 में उन्होंने महाराष्ट्र में शिव सेना नामक कट्टर हिंदू राष्ट्रवादी संगठन की स्थापना की.

शुरुवाती दौर में बाल ठाकरे को अपेक्षित सफलता नहीं मिल पाई लेकिन 1995 में भाजपा-शिवसेना के गठबंधन ने महाराष्ट्र में अपनी सरकार बना पाने में सफल रही. बाल ठाकरे मराठी संस्कृति के नाम पर उत्तेजक बयानों के लिये जाने जाते थे और इसी कारण जनमानस का एक बड़ा वर्ग उनकी आलोचना भी करता रहा और उनके खिलाफ कई बार मुकदमा भी दर्ज किया गया था.