पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >खेल >दिल्ली Print | Share This  

बैट्समैन अफसर और बॉलर मजदूर-कपिल देव

बैट्समैन अफसर और बॉलर मजदूर-कपिल देव

गुवाहाटी. 19 नवंबर 2012

कपिल देव


भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने कहा है कि गेंदबाज मज़दूर जैसे होते हैं और बल्लेबाज अफसरों की तरह. कपिल देव की राय है कि हरेक क्रिकेटर अफसर बनना चाहता है क्योंकि लोग अफसरों को ही पसंद करते हैं.

गुवाहाटी में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कपिल देव ने कहा कि आज गेंदबाज़ आखिर कौन बनना चाहता है? हर कोई चाहता है कि वो तेंदुलकर सहवाग, धोनी या गंभीर बने, जो सब अफ़सर हैं. कपिल देव ने कहा कि गेंदबाज़ तो मज़दूर होते हैं और मजदूर कौन बनना चाहता है. सभी अफसर बनना चाहते हैं.

अपने ज़माने के इस मशहूर क्रिकेटर ने कहा कि मैच में अगर कोई गेंदबाज पांच विकेट चटकाता है तो भी उसे एक बल्लेबाज द्वारा बनाये गये शतक से कम श्रेय दिया मिलता है. ऐसी स्थिति दुखद है. उन्होंने कहा कि इस स्थिति को बदले बिना हम बेहतर और विशेष तौर पर तेज़ गेंदबाजों की उम्मीद नहीं कर सकते.

टेस्ट क्रिकेट में 434 और एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 253 विकेट लेने वाले कपिल देव ने ऐसे 23 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें उन्होंने 5 से अधिक विकेट चटकाये. यहां तक कि पारी में 10 विकेट लेने वाले 2 मैच भी कपिल देव के हिस्से हैं. कपिल देव इंग्लैंड के क्रिकेट खिलाड़ी इयान बॉथम के बाद विश्व के ऐसे दूसरे आलराउंडर हैं जिन्होंने 83 मैचों में 300 विकेट लेकर तथा 3000 से अधिक रन बनाकर दोहरी सफलता प्राप्त की है. उन्होंने 20 वर्ष की उम्र में ही एक हज़ार बनाने तथा 100 विकेट लेने का नया कीर्तिमान स्थापित किया था. यह कीर्तिमान केवल एक साल और 109 दिन में ही बना था.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

Allaraje Khan [] New Delhi - 2012-11-19 09:08:30

 
  Kapil Deo is a great great All Rounder Cricketer. He has not compromised with game and what ever he says, very open, straight forward and very honestly. Well keep it up. 
   
 

NITU [NITUGOSWAMI1986@GMAIL.COM] NEW DELHI - 2012-11-19 08:59:34

 
  कपिल जी मैं अपना संदेश आपको देना चाहती हूं कि आपको बीसीसीआई में विशेष पद मिलना चाहिए. As we know you were the most talented man ever in cricketing time as well as your comments on TV are very suitable and appropriate. 
   
 

satya sinha [] Faridabad - 2012-11-19 06:46:50

 
  ऐसा बयान एक सच्च खिलाड़ी ही दे सकता है.  
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in