पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

गद्दी छोड़ें गडकरी-यशवंत सिन्हा

गद्दी छोड़ें गडकरी-यशवंत सिन्हा

नई दिल्ली. 20 नवंबर 2012

नितिन गडकरी


भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी के खिलाफ अब पार्टी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा खुल कर सामने आ गये हैं. सिन्हा ने कहा है कि नितिन गडकरी दोषी हैं या नहीं, यह अलग मुद्दा है लेकिन उन्हें नैतिक आधार पर इस्तीफा देना चाहिए. यशवंत सिन्हा ने कहा कि नितिन गडकरी के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला सामने आने के बाद उन्हें खुद ही यह पहल करनी चाहिये थी.

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य महेश जेठमलानी पहले ही उनके खिलाफ मोर्चा खोलते हुये राष्ट्रीय कार्यकारिणी से इस्तीफा दे दिया था. इसके अलावा उनके पिता और भाजपा सांसद राम जेठमलानी भी नितिन गडकरी से अपनी नाराजगी जाहिर कर चुके हैं. पूर्ति ग्रुप में फर्जी फंडिंग के आरोपों को लेकर राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य जगदीश शेट्टीगर ने भी कहा था कि जिस तरह लालकृष्ण आडवाणी ने हवाला मामले में आरोप लगने के बाद लोकसभा से इस्तीफा दे दिया था, उसी तरह गडकरी को भी भाजपा के अध्यक्ष पद को छोड़ देना चाहिये.बिहार भाजपा के अध्यक्ष डॉक्टर सी पी ठाकुर ने भी कहा था कि नितिन गडकरी अपने मामले में कोई फैसला खुद करेंगे. वैसे भी व्यावसायियों या उद्योगपतियों के लिए राजनीति में भाग लेना उचित नहीं है.

नितिन गडकरी के खिलाफ एक के बाद एक विरोध के स्वर के बीच यशवंत सिन्हा का खुल कर सामने आना बताता है कि भाजपा के भीतर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. यशवंत सिन्हा के अलावा पार्टी के कुछ और दिग्गज नेता गडकरी के खिलाफ हैं लेकिन पार्टी की बदनामी के कारण वे चुप्पी साधे हुये हैं. सांसद और वकील राम जेठमलानी पहले ही संकेत दे चुके हैं कि पार्टी में गडकरी को लेकर असंतोष है.