पहला पन्ना >राजनीति >उ.प्र. Print | Share This  

नीरा यादव कब जाएगी जेल

नीरा यादव कब जाएगी जेल

लखनऊ. 21 नवंबर 2012

नीरा यादव


भ्रष्टाचार के आरोप में 3 साल कैद की सजा पाने वाली उत्तरप्रदेश की पूर्व मुख्य सचिव और भाजपा नेता नीरा यादव कब जेल की हवा खाएंगी, यह रहस्य ही बना हुआ है. नीरा यादव को मंगलवार को जब तीन साल की सजा सुनाई गई तो विरोधियों को उम्मीद थी कि अब वे जेल की चक्की पीसेंगी. लेकिन नीरा यादव को इस मामले में जमानत मिल गई. उत्तरप्रदेश की 3 सर्वाधिक भ्रष्ट अधिकारियों में शुमार नीरा यादव भारतीय जनता पार्टी की नेता भी रही हैं.

इधर भ्रष्टाचार के कई आरोपों में फंसी नीरा ने कहा है कि नोयडा भूमि आवंटन घोटाले में उन्हें अनावश्यक रुप से फंसाया गया है और वे अपनी सजा के खिलाफ उपरी अदालत में अपील करेंगी. उनके साथ फंसे आईएएस अधिकारी राजीव कुमार भी अपील करेंगे.

गौरतलब है कि नोएडा भूमि आवंटन घोटाले में सीबीआई की विशेष अदालत ने उत्तरप्रदेश की पूर्व मुख्य सचिव नीरा यादव और आईएएस अधिकारी राजीव कुमार को दोषी मानते हुये तीन-तीन साल की कैद की सजा सुनाई है. इसके अलावा इन दोनों भ्रष्ट अधिकारियों को अदालत ने एक-एक लाख रुपये का जुर्माना भी किया है.

भ्रष्टाचार में धंसी हुई 1971 बैच की आईएएस नीरा यादव को इससे पहले 2010 में भी ज़मीन घोटाले के एक मामले में 4 साल कैद की सजा सुनाई गई है. तमाम आरोपों के बाद भी उत्तरप्रदेश की मुख्य सचिव बनने वाली नीरा यादव को सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद पद से हटाया गया था. बाद में नीरा यादव को भारतीय जनता पार्टी ने अपने दल में शामिल कर लिया.

ताजा मामले में उत्तरप्रदेश की मुख्य सचिव रही नीरा यादव पर आरोप है कि उन्होंने 1994 में नोयडा प्राधिकरण के सीईओ के पद पर रहते हुये अपनी दोनों बेटियों और आईएएस अधिकारी राजीव कुमार को अवैध तरीके से भूखंड का आवंटन किया था. नीरा यादव के पति महेंद्र सिंह यादव भी आईपीएस रहे हैं, जिन्होंने विवादों के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था.