पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >गुजरात Print | Share This  

मोदी ने किया 30 लाख नौकरी का वादा

मोदी ने किया 30 लाख नौकरी का वादा

अहमदाबाद. 3 दिसंबर 2012

नरेंद्र मोदी


गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि अगर उनकी सरकार फिर बनी तो वे गुजरात के 30 लाख लोगों को रोजगार देंगे. इसके अलावा उन्होंने 50 लाख लोगों को घर बना कर देने का भी वादा किया है. नरेंद्र मोदी ने यह सब कुछ भाजपा के घोषणा पत्र में कहा है.

नरेंद्र मोदी ने भाजपा का चुनावी घोषणा पत्र जारी करते हुये कहा कि वादे करना आसान है और बहुत सी पार्टियां घर देने का वादा कर रही हैं, लेकिन हम वादों को पूरा करेंगे. गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी ने भी शहरी गरीबों को 27 लाख घर मुहैय्या करने का वादा किया है.

गुजराती लोगों के लिए स्वास्थ्य बीमा से जुड़े कांग्रेस के वादे के जवाब में नरेंद्र मोदी ने कहा कि गुजरात के सभी छह करोड़ लोगों को बीमा की सुविधा मुहैया कराई जाएगी. घोषणा पत्र के अनुसार अगले पांच साल में 30 लाख युवाओं को रोजगार दिया जाए. इसके अलावा घोषणा पत्र में कहा गया है कि अगर मोदी की सरकार में वापसी हो जाती है तो वो शहरी और ग्रामीण गरीबों को 50 लाख घर मुहैया कराएंगे.

अपने चुनावी घोषणा पत्र में भाजपा ने कहा है कि किसानों के कर्जों का ब्याज चुकाया जाएगा. इसके अलावा हर गांव में बिजली और पीने का स्वच्छ पानी मुहैया कराने की बात भी घोषणा पत्र में कही गई है. साथ ही सरकारी नौकरियों के लिए आवेदन की उम्र को बढ़ाने का वादा भी घोषणा पत्र में किया गया है.

इधर भाजपा के घोषणा पत्र पर चुटकी लेते हुये कांग्रेस ने कहा है कि भाजपा का घोषणापत्र पूरी तरह से मजाक है. गुजरात प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अर्जुन मोधवाड़िया ने आरोप लगाया कि जितनी भी किफायती आवास योजनाएं थीं, वो 17 साल के अपने शासन में भारतीय जनता पार्टी ने बंद कर दीं. कांग्रेस के शासन में लाखों मकान बनाने वाले गुजरात हाउसिंग बोर्ड को ही बंद कर दिया गया. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार का यह घोषणा पत्र चुटकुले की तरह है.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in