पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

एफडीआई में सपा-बसपा होंगे किंगमेकर

एफडीआई में सपा-बसपा होंगे किंगमेकर

नई दिल्ली. 4 दिसंबर 2012

fdi india


प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के मुद्दे पर मंगलवार को संसद में पहले बहस और फिर वोटिंग होगी. मनमोहन सरकार एफडीआई के मुद्दे पर जोड़-तोड़ में लगी हुई है हालांकि उसकी आशंकाएं अभी तक कायम हैं. इस मुद्दे के बारे में कई पार्टियों ने अभी तक अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है. अब सरकार की उम्मीदें बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) से लगी हुई हैं जिन्होंने अभी तक इस मामलें में सरकार के प्रस्ताव का खुलकर विरोध नहीं किया है.
 
बसपा प्रमुख मायावती ने सोमवार को कहा था कि उनकी पार्टी खुदरा में विदेशी निवेश के पक्ष में नहीं है. उन्होंने कांग्रेस को एफडीआई पहले अपने द्वारा शासित राज्यों में लागू करने की सलाह देते हुए कहा कि कांग्रेस उन राज्यों के अनुभव को देख कर इसे देशभर में लागू करने का सोचे. हालांकि मायावती ने सरकार को यह कह कर कुछ राहत जरूर दी कि इस मामले में उनकी पार्टी सांप्रदायिक ताकतों के साथ नहीं है. उधर सपा प्रमुख मुलायम सिंह ने भी कहा है कि उनकी पार्टी वोटिंग के दौरान ही अपनी राय जाहिर करेगी.

उल्लेखनीय है कि एफडीई के मुदे पर भाजपा और वाम दलों समेत कई पार्टियां केंद्र सरकार के रुख का पुरज़ोर विरोध करती आई हैं और ऐसे में मंगलवार को होने वाली वोटिंग में सरकार के लिए अपना बहुमत साबित करना इतना आसान नहीं होगा. इधर राजनीतिक हलकों में कयास लगाए जा रहे हैं कि इस मामले में बसपा और सपा किंगमेकर साबित हो सकते हैं.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

pradeep sthapak [] Ganj Basoda (Vidisha). MP. - 2012-12-04 10:45:30

 
  It appears, that Hon. Mayawati Ji & Hon. Mulayam Singh Ji will go-YES to Present Governemt for FDI. 
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in