पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

मायावती ने कहा अभी और भड़कूंगी

मायावती ने कहा अभी और भड़कूंगी

नई दिल्ली. 12 दिसंबर 2012

मायावती


राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी पर भड़कने वाली मायावती ने कहा है कि उनका भड़कना पहला कदम है और अगर संसद में ऐसा ही होता रहा तो वह ऐसे और भी कदम उठाएंगी. उन्होंने कहा कि मूल मुद्दों पर बात नहीं हो पा रही है और पदोन्नति में आरक्षण बिल को पारित करने की दिशा में कुछ नहीं हो रहा है.

गौरतलब है कि बुधवार को मायावती ने सदन में पदोन्नति में आरक्षण बिल पारित नहीं होने से नाराजगी जाहिर करते हुये राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी पर ही भड़क गईं. प्रश्नकाल के दौरान सदन में पहुंची मायावती ने हामिद अंसारी पर आरोप लगाते हुये कहा कि सदन की कार्यवाही आए दिन प्रश्नकाल के बाद स्थगित हो जाती है. उन्होंने अंसारी से कहा कि 12 बजे आप चले जाते हैं. आए दिन 12 बजे के बाद सदन नहीं चल पाता है. सदन सुचारू रूप से चले, इसकी व्यवस्था कौन करेगा? मायावती ने साफ कहा कि सदन में कामकाज सामान्य तरीके से चले, यह जिम्मेदारी आपकी है.

मायावती के तेवर देख कर सभापति समेत अधिकांश सांसद चकित थे. सभापति हामिद अंसारी ने मायावती से कहा कि अभी प्रश्नकाल चलने दें. सदन सभी सदस्यों के सहयोग से ही चल सकता है. हालांकि मायावती पर इस बात का कोई असर नहीं हुआ और वे अपनी पार्टी के दूसरे सांसदों के साथ आसन के पास जा पहुंची. अंततः सदन की कार्रवाई दिन भर के लिये स्थगित कर दी गई.

इधर बाद में पत्रकारों से बातचीत में मायावती ने कहा यह उनका पहला कदम था. अगर इस बिल को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई जाती है तो वह ऐसे और भी कड़े कदम उठाएंगी. मायावती ने कहा कि सदन को सुचारू ढंग से चलाना सरकार और सभापति की जिम्मेदारी है. मैंने पहले ही कहा था कि अगर इस बिल को पास कराने के लिए सही ढंग से प्रयास नहीं किए गए तो उनकी पार्टी कड़े कदम उठाएगी. यह मेरा पहला कदम था. अगर सरकार ने अपना रुख नहीं बदला तो वह ऐसे और भी कदम उठाएंगी.