पहला पन्ना >व्यापार >दिल्ली Print | Share This  

किंगफिशर बिकने के लिये तैयार

किंगफिशर बिकने के लिये तैयार

नई दिल्ली. 12 दिसंबर 2012

किंगफिशर एयरलाइंस


विजय माल्या के स्वामित्व वाले किंगफिशर एयरलाइंस ने कहा है कि वह संयुक्त अरब अमिरात की एतिहाद एयरवेज़ समेत कुछ और निवेशकों से हिस्सेदारी खरीदने की प्रक्रिया में है. किंगफिशर एयरलाइंस ने कहा है कि अभी तक यह तय नहीं हुआ है कि वह कितनी फीसदी हिस्सेदारी बेचने वाली है. हालांकि व्यवसायिक घरानों में चर्चा है कि किंगफिशर एयरलाइंस 48 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगी.

गौरतलब है कि आईपीएल, फैशन शो करवा कर करोड़ो रुपये खर्च करने वाले विजय माल्या की किंगफिशर पर करीब एक अरब चालीस करोड़ डॉलर का कर्ज़ है. 2005 में शुरु हुई किंगफिशर एयरलाइंस शुरु से ही घाटे में रही है. अब हालत ये है कि किंगफिशर एयरलाइंस को कर्जदाताओं ने आगे कर्ज देने को मना कर दिया है और कर्मचारी लंबे समय से वेतन नहीं मिलने के कारण हड़ताल पर है. किंगफिशर एयरलाइंस की कई उड़ाने बंद हो गई हैं. इसके बाद किंगफिशर एयरलाइंस ने अपनी हिस्सेदारी बेचने का निर्णय लिया है.

किंगफिशर एयरलाइंस ने एक बयान जारी करते हुये कहा कि हम इस बात की पुष्टि करना चाहते हैं कि कंपनी हिस्सेदारी खरीदने के लिए कई निवेशकों से बातचीत कर रही है, जिनमें एतिहाद एयरवेज़ भी शामिल है.बातचीत अभी शुरुआती स्तर पर है और किसी तरह की डील नहीं हुई है.