पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >खेल >दिल्ली Print | Share This  

साइना की हार से हताशा

साइना की हार से हताशा

नई दिल्ली. 14 दिसंबर 2012

साइना नेहवाल


साइना नेहवाल को लेकर बैडमिंटन प्रेमियों की सारी उम्मीदें धूल में मिल गई हैं और साइना नेहवाल बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड सुपर सीरीज फाइनल्स में एक के बाद एक लगातार दूसरी बार हारते हुये सेमीफाइनल में प्रवेश की दौड़ से लगभग बाहर हो गई हैं. माना जा रहा है कि पिछले कुछ सालों में साइना नेहवाल का ये सबसे खराब प्रदर्शन रहा है. थाइलैंड की रेचानोक इतानोन ने लगातार साइना नेहवाल को 21-13, 21-16 से पटखनी दी.

साइना को लेकर भारतीय दर्शकों में बहुत उम्मीद थी लेकिन साइना बुधवार के बाद गुरुवार को भी हार गईं. बुधवार को उन्हें डेनमार्क की टाइन बाउन ने 14-11, 21-11, 19-21 से हराया था. अब थाइलैंड की रेचानोक इतानोन ने 21-13, 21-16 से हराते हुये साइना के लिये सेमीफाइनल का रास्ता लगभग बंद कर दिया.

साइना अब तक दुनिया की तीसरे नंबर की श्रेष्ठतम बैडमिंटन खिलाड़ी मानी जाती रही हैं लेकिन लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली साइना दुनिया की नौंवे नंबर की बैडमिंटन खिलाड़ी रेचानोक के सामने धराशाई हो गईं. हालत ये थी कि रेचानोक एक के बाद एक ताबड़तोड़ हमले करती रहीं और साइना केवल बचाव में जुटी रहीं. पहले दौर के गेम में रेचानोक ने 14-5 से बढ़त बनाई. हालांकि इसके बाद साइना ने 7 अंक बना कर इस अंतर को 14-12 तक पहुंचा दिया. लेकिन इसके बाद रेचानोक ने लगातार छह अंक बनाये और साइना को संभलने का अवसर ही नहीं दिया. इसके बाद के गेम में साइना ने 16 अंकों तक मुकाबले को बराबरी तक ले जाने की कोशिश में कामयाबी पायी लेकिन फिर रेचानोक ने ताबड़तोड़ 5 अंक बना डाले.

साइना के सामने अब दुनिया की चौथे नंबर की खिलाड़ी जर्मनी की जूलियन शेंक से भीड़ने की चुनौती रही है. हालांकि अभी तक जूलियन शेंक के खिलाफ 10 मुकबलों में से से 7 में साइना ने जीत दर्ज की है लेकिन इस बार थकी-हारी दिखने वाली साइना क्या कुछ कर पाएंगी, इसको लेकर दर्शकों में भारी उत्सुकता है क्योंकि साइना की तगड़ी जीत ही सेमीफाइनल में उन्हें पहुंचने में मदद कर पाएगी.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in