पहला पन्ना >राज्य >छत्तीसगढ़ Print | Share This  

सीआरपीएफ जवान ने चार साथियों को मार डाला

सीआरपीएफ जवान ने चार साथियों को मार डाला

जगदलपुर. छत्तीसगढ़ 25 दिसंबर 2012

हत्या


छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के अरनपुर में सीआरपीएफ 111 एफ कम्पनी के एक जवान ने रात में बैरक में सो रहे अपने 5 साथियों को गोली मार दी. जिससे चार जवानों की मौत हो गई. वहीं एक जवान गंभीर रूप से घायल है. बताया जाता है कि आरोपी जवान का अपने साथियों के साथ कुछ कहा-सुनी हो गई थी. आरोपी जवान को हिरासत में ले लिया गया है. मृत चार जवानों में से एक पुरूषोत्तम लाल पलारी धमतरी का निवासी है.

जिला मुख्यालय दंतेवाडा से 65 किलोमीटर की दूरी पर स्थित अरनपुर में नक्सलियों से मोर्चा लेने हेतु सीआरपीएफ 111 बटालियन की दो कम्पनियां एफ व डी तैनात हैं. जिसमें एफ कंपनी में सोमवार रात करीब 12.10 बजे एक जवान दीप कुमार तिवारी (उप्र) ने अपनी इंसास रायफल से बैरक में सो रहे अपने पांच साथियों को गोली मार दी. जहां तीन जवानों की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं दो गंभीर रूप से घायल हो गए.

बैरक में अचानक गोलीबारी की आवाज सुनकर अन्य जवान सोते से उठे और उन्होंने दीप को पकड़ लिया. इसके बाद दो घायल जवानों को जगदलपुर रवाना किया गया जिसमें एक की नकुलनार के पास रास्ते में ही मौत हो गई. अन्य एक जवान सुनील सावंत (महाराष्ट्र) गंभीर रूप से घायल है. उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है.

दंतेवाड़ा एसपी नरेंद्र खरे ने बताया कि पुलिस ने दीप कुमार को गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ कर रही है. पूछताछ में आरोपी जवान ने बताया कि पिछले दो दिन से उसकी तबीयत कुछ ठीक नहीं है. वह मानसिक रूप से परेशान था, और उसकी अपने साथियों के साथ कुछ बातों को लेकर कहासुनी हो गई थी. रात में जब सारे जवान सो रहे थे तब उसने गोली चला दी.

मृतक चार जवानों में से एक पुरूषोत्तम लाल पलारी धमतरी का निवासी है. अन्य जवानों में चंदन सिंह गुजरात, अनिरूद्ध उत्तर प्रदेश, और रमेश कुमार हरियाणा के रहने वाले थे. गौरतलब है कि बैरक में करीब 8 जवान एक साथ रहते थे, जिसमें से दो कल रात ड्यूटी पर तैनात थे.