पहला पन्ना >राजनीति >पश्चिम Print | Share This  

ममता रेप का कितना चार्ज लेंगी?

ममता रेप का कितना चार्ज लेंगी?

कोलकाता. 28 दिसंबर 2012

ममता बनर्जी


पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री और विधानसभा में माकपा के उपनेता अनीसुर रहमान ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से जानना चाहा है कि अगर उनके साथ रेप हो तो उसके बदले उन्हें कितने रुपये का भुगतान किया जाये? एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करते हुये अनीसुर ने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से पूछा है कि वह बताएं, रेप के लिए कितना चार्ज लेंगी. हालांकि बाद में जब बयान को लेकर पार्टी ने ही विरोध किया तो अनीसुर माफी मांगने लग गये.

रेप को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच राजनेताओं की बदजुबानी भी चरम पर है. एक के बाद एक राजनेता घटिया बयानबाजी कर रहे हैं. अब मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता और बंगाल के पूर्व मंत्री अनीसुर रहमान भी इस दलदल में कूद गये हैं. उत्तरी दिनाजपुर जिले के इटाहार में आयोजित एक सार्वजनिक रैली में अनीसुर ने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर ही हमला बोल दिया. ममता बनर्जी ने हाल ही में एक रेप पीड़ित महिला को 20 हजार रुपये बतौर मुआवजा देने का आदेश दिया था. इस आदेश का विरोध करते हुये अनीसुर रहमान ने रैली में ममता बनर्जी को लक्ष्य करते हुये कहा कि मुख्यमंत्री बताएं कि वह रेप के लिए कितना चार्ज लेंगी.

अनीसुर रहमान ने मर्यादा की सारी सीमा लांघते हुये कहा कि ममता बनर्जी ने 24 परगना से रेप पीड़िता चंपाला सरदार को रायटर्स बिल्डिंग बुलवाया था. वह तो समाज से बहिष्कृत लड़की थी. ममता को कोई अच्छी लड़की लाना चाहिए था. मुझे लगता है ममता बनर्जी से अच्छी लड़की नहीं हो सकती है. मैं 20 हजार रुपए के साथ कुछ मेडल भी दे सकता हूं. आप रेप के लिए कितना चार्ज लेंगी.

हालांकि बाद में इस मुद्दे पर अनीसुर रहमान ने कहा है कि उन्होंने भूलवश ऐसी टिप्पणी की थी और इसके लिये वे माफी मांगते हैं. इधर मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने भी रहमान की इस टिप्पणी को लेकर गहरी आपत्ति दर्ज की है. रहमान के इस बयान को लेकर माकपा के राज्य सचिव विमान बोस ने कहा कि यह पार्टी की संस्कृति के खिलाफ है और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

इसके बाद अनीसुर रहमान ने एक बयान जारी करते हुये कहा कि मैं पिछले 21 साल से मैं राज्य में विधायक हूं. मैंने इस तरह की बात पहले कभी नहीं कही और भविष्य में ऐसा दोबारा नहीं होगा. मैं राज्य के सभी लोगों से माफी मांगता हूं. उन्होंने कहा कि मैंने रेप की घटनाओं में पीड़ित को राज्य सरकार की ओर से दिए जाने वाले मुआवजे के मुद्दे पर बोलने के दौरान भूलवश मुख्यमंत्री के बारे में कुछ बातें कहीं. व्यक्तिगत तौर पर मुख्यमंत्री या किसी को अपमानित करने की मेरी कोई मंशा नहीं थी.