पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >मुद्दा > Print | Share This  

हनी सिंह ने दी फिर दलील

हनी सिंह ने दी फिर दलील

नई दिल्ली. 3 जनवरी 2013


अश्लील और बेहूदा गीत गाने वाले हनी सिंह ने अब बेशर्मी के साथ सफाई देते हुये कहा है कि उन्हें निशाना बनाया जा रहा है. हनी सिंह ने ट्वीटर पर कहा है कि ये सब जो अभी चल रहा है,उसमें एक बहाना ढूंढा जा रहा था जो मिल गया है. बधाई. हनी सिंह ने कहा है कि मुझ पर दोष डालने से पहले सरकार को दोषी ठहराइए जिन्होंने बलात्कारी के खिलाफ कोई कड़े कदम नहीं उठाए,मुझे इस्तेमाल करना बंद कीजिए.

हनी सिंह ने दलील दी है कि उन्होंने अतीत में कुछ गलतियां की हैं पर अब वे पूरी तरह अलग संगीत दे रहे हैं. इधर हनी के वकील प्रज्ञान प्रदीप सिंह ने दावा किया कि हनी ये साफ करना चाहते हैं कि जिन गानों की बात हो रही है उससे उनका कोई लेना देना नहीं है. मेरे मुवक्किल ने लिखित में सभी डिजिटल प्लैटफॉर्म से गाने और विडियो हटाने के लिए कहा है.

गौरतलब है कि वर्ष 2012 में यूट्यूब में सर्वाधिक प्रचलित 10 वीडियो में जगह बनाने वाले गायक हनी सिंह के एक अत्यंत अश्लील गीत को लेकर विवाद शुरु हो गया. आरोप है कि हनी सिंह के इस गीत से गैंगरेप को बढ़ावा मिलेगा. हनी सिंह के इस अत्यंत घटिया और अश्लील गीत को लेकर देश के कई पत्रकारों-लेखकों ने भी विरोध दर्ज किया है. हनी सिंह ने 'कॉकटेल' और 'खिलाड़ी 786' फिल्म में भी गीत गाये हैं. हनी के ताजा गाने को लेकर हुये ऑनलाइन विरोध के बाद नये साल की पूर्व संध्या पर उनका एक आयोजन भी रद्द कर दिया गया है. इसके अलावा उनके खिलाफ एक एफआईआर भी दायर की गई है.

इस बारे में लखनऊ के आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने थाने में एक एफआईआर दर्ज कराते हुये कहा है कि हनी सिंह द्वारा अन्य लोगों, जिनके नाम श्री बादशाह, श्री दिलजीत दोसांझ बताए जाते हैं, के साथ मिल कर गाये कुछ ऐसे गानों के बोल अश्लीलता, भद्देपने, ओछेपन, गंदेपन की समस्त सीमाओं को पार करते हैं. इनमे एक गाना “मैं हूँ बलात्कारी” तथा दूसरा “केंदे पेचायिया पिन्दान ने तेरी मारी” है. इन दोनों गानों के बोल को पढ़ने मात्र से यह साबित हो जाता है कि ये अत्यंत अश्लील, गंदे और अशिष्ट हैं और इस प्रकार आपराधिक कृत्य के अंतर्गत आते हैं.

अमिताभ ठाकुर का कहना है कि ये गाने अत्यंत अश्लील, उत्तेजक और अभद्र होने के कारण आईपीसी की विभिन्न धाराओं 292, 293,294 तथा 509 आईपीसी के अंतर्गत अपराध की श्रेणी में आते हैं. इस प्रकार के गाने समाज में महिलाओं के प्रति असम्मान तथा गंभीर अपराध बढाने के उत्प्रेरक का भी कार्य करते हैं और सामाजिक रूप से पूर्णतया वर्जित प्रकार के हैं जिनका समाज पर मात्र बुरा असर ही पड़ता है.

इधर एफआईआर दर्ज होने के बाद हनी सिंह ने सफाई दी है कि जिस गीत को लेकर विवाद हो रहा है, वह उन्होंने नहीं लिखा है. अपने अश्लील और बेगूदे गीतों को लेकर उन्होंने भोलेपन से कहा है कि उन्होंने वही गीत लिखे-गाये हैं, जो समाज में आमफहम हैं. ऐसे में उनका अपराध क्या है? अब हनी सिंह ने ट्वीटर पर उलटा विरोध करने वालों को ही निशाना बनाने की कोशिश की है.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

अंकित गोयल [] फरीदाबाद - 2015-03-20 17:40:42

 
  हनी सिंह ने कोई गंदे गाने नही गए है हनी सिंह को निसाना बनाया जा रहा है क्योंकि वो बहुत अच्छे गाने बना रहे है  
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in