पहला पन्ना >अंतराष्ट्रीय > Print | Share This  

केवल मुसलमान बोल सकते हैं अल्लाह

केवल मुसलमान बोल सकते हैं अल्लाह

कुआलालमपुर. 10 जनवरी 2013

allah


मलेशिया के सेलांगोर राज्य के सुलतान शराफुद्दीन इदरीस शाह ने फतवा जारी कर कहा है कि “अल्लाह” शब्द का उच्चारण सिर्फ मुसलमान ही कर सकते हैं. उन्होंने गैर मुसलमानों के द्वारा “अल्लाह” शब्द बोले जाने पर प्रतिबंध लगाते हुए कहा है कि यह शब्द केवल मुसलमानों के लिए पवित्र है और गैर-मुस्लिम इसका उच्चारण नहीं कर सकते हैं. सुल्तान के इस फैसले के बाद सभी विपक्षी पार्टियों ने उनका विरोध किया है.

अपना आदेश सुनाते हुए सुल्तान शराफुद्दीन इदरीस शाह ने इस बात पर भी आश्चर्य और दुख व्यक्त किया कि कैसे पिनांग के मुख्यमंत्री और विपक्षी डीएपी पार्टी के महासचिव लिम गुआन इंग ने ‘अल्लाह’ शब्द को बाइबल के मलय संस्करण में शामिल करने की मांग की. लिम ने अपने नए साल के संबोधन में यह मांग उठाई थी.

सेलानागोर राज्य के इस्लामी मामलों की परिषद के सचिव मोहम्मद मिस्त्री इदरीस ने सुल्तान के फतवे जानकारी देते हुए कहा कि इससे पहले 18 फरवरी 2010 को भी इस आशय का फतवा जारी हुआ था और उसे यहां के सरकारी गजट में भी यह प्रकाशित किया गया था.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह फतवा राज्य के मौजूदा कानूनों के मुताबिक जारी किया गया है और जो भी इसके खिलाफ आवाज़ उठाएगा उसे कड़ी सजा दी जाएगी. इस बीच मलेशिया के उपप्रधानमंत्री मुहयिद्दीन यासीन ने सुल्तान के फैसले का बचाव करते हुए कहा है कि राज्य के इस्लामी मामलों का प्रमुख होने के नाते सुल्तान शराफुद्दीन को अधिसूचना जारी करने का पूरा अधिकार प्राप्त है.