पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

फांसी के बाद आज मिली सरकारी चिट्ठी

फांसी के बाद आज मिली सरकारी चिट्ठी

नई दिल्ली. 11 फरवरी 2013

अजल गुरु


अफजल गुरु के परिजनों को उसके फांसी चढ़ाये जाने की सरकारी सूचना सोमवार को मिली. इससे पहले भारत के गृहसचिव ने दावा किया था कि अफजल के परिजनों को स्पीड पोस्ट से सूचना दे दी गई है. लेकिन गृह मंत्रालय का यह पत्र अफजल की पत्नी को अफजल की फांसी के दो दिन बाद मिला. इस बारे में गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने कहा कि चिट्ठी भेजना मेरा काम नहीं है और इस बारे में पूरी प्रक्रिया का पालन हुआ है. इधर जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा है कि यदि आप परिवार को डाक के जरिए यह सूचित करने जा रहे हैं कि उसके परिवार के सदस्य को फांसी दी जा रही है तो व्यवस्था के साथ कुछ न कुछ गलत है.

गौरतलब है कि 9 फरवरी को अफजल गुरु को दिल्ली के तिहाड़ जेल में फांसी दी गई थी. जम्मू-कश्मीर के मुख्य पोस्ट मास्टर जनरल जॉन सैम्यूल का कहना है कि नई दिल्ली से भेजा गया स्पीड पोस्ट 9 फरवरी को मिला था और अगले दिन रविवार होने के कारण यह पत्र अफजल के परिजनों को नहीं भेजा जा सका. आज यानी सोमवार 11 फरवरी को यह पत्र उन्हें पहुंचाया गया.

इस बारे में गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने दावा किया कि जेल प्रशासन ने अफजल की फांसी की सूचना उसके परिजनों को स्पीड पोस्ट से भेजी थी जिसकी रसीद उनके पास है. उन्होंने कहा कि सारे काम गृहमंत्री ही नहीं करता. मैंने सिर्फ इस सूचना पर दस्तखत किए थे. स्पीड पोस्ट जेल प्रशासन भेजता है. इस मामले में भी जेल मैनुअल के हिसाब से पूरी प्रक्रिया का पालन किया गया.