पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
 पहला पन्ना > राज्य > आंध्र-प्रदेश Print | Send to Friend | Share This 

आंध्र के मुख्यमंत्री लापता

आंध्र के मुख्यमंत्री लापता
हैदराबाद. 02 सितंबर 2009

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी को लेकर यहां बेगमपेट हवाई अड्डे से बुधवार की सुबह रवाना हुआ हेलीकॉप्टर लापता हो गया है. बुधवार की देर रात तक राजशेखर रेड्डी से अब तक कोई संपर्क नहीं हो पाया था. उनकी तलाश में 11 हेलीकॉप्टर लगाए गए हैं, इनमें वेदरप्रूफ एवं मानवरहित हेलीकॉप्टर भी है. वन विभाग के कर्मचारियों को भी मुख्यलमंत्री के हेलीकॉप्टर की तलाश में लगा दिया गया है.

आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव ने कहा है कि नेशनल रिमोट सेंसिंग एजेंसी का मानव रहित विमान प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस राजशेखर रेड्डी के हेलीकॉप्टर का पता लगाने के काम में लगाया गया है. हालांकि मुख्यमंत्री राजशेखर रेड्डी के हेलीकॉप्टर को लेकर एपी एविएशन ने दावा किया है कि हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त नहीं हुआ है औऱ न ही उसे जबरन उतारा गया है क्योंकि हेलीकॉप्टर में ऐसा इमरेजेंसी लोकेटर ट्रांसमीटर लगा हुआ है.

मुख्यमंत्री के निजी सचिव एस सुब्रमण्यम और मुख्य सुरक्षा अधिकारी एएससी वेस्ली के साथ दो पायलट भी उस दो इंजन वाले सरकारी हेलीकॉप्टर पर सवार हैं. हेलीकॉप्टर का चित्तूर जिले की उड़ान के दौरान बुधवार 9 बजकर 35 मिनट पर संपर्क टूट गया.

आंध्र प्रदेश के वित्त मंत्री के रोसैया ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बेल 430 हेलीकॉप्टर के कहीं उतरने के बारे में कोई सूचना नहीं है. वित्त मंत्री के. रोसियाह और मुख्य सचिव रामाकांत रेड्डी ने नाल्लामल्ला जंगल क्षेत्र के लोगों से तलाशी अभियान में सहयोग करने की अपील की है. इस जंगली क्षेत्र में ही कुर्नूल और आसपास के जिले स्थित हैं.

रेड्डी ने कहा कि सरकार बुधवार सुबह लगभग साढ़े नौ बजे से मुख्यमंत्री से संपर्क में नहीं है. "अभी तक मुख्यमंत्री के बारे में हमारे पास कोई सूचना नहीं है." उन्होंने कहा, "यह संभव है कि तेज हवा व भारी बारिश के कारण हेलीकॉप्टर किसी अज्ञात जगह पर उतर गया हो. यदि आप किसी अज्ञात जंगली क्षेत्र में उतरें हो तो वहां से बाहर निकलना काफी मुश्किल होता है." 59 वर्षीय राजशेखर रेड्डी एक समारोह में भाग लेने के लिए चित्तूर जा रहे थे. सुबह पौने ग्यारह बजे उनके हेलीकॉप्टर को चित्तूर में उतरना था.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   

 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in