पहला पन्ना > अंतराष्ट्रीय Print | Send to Friend 

नर्गिस में मरने वालों का आंकड़ा 22 हजार पार

नर्गिस में मरने वालों आंकड़ा 22 हजार पार

रंगून. 7 मई, 2008
बर्मा में शनिवार को आए तूफान में मरने वालों की संख्या 22 हजार के पार पहुंच गई है. इससे पहले सोमवार को यह आंकड़ा 15 हजार तक बताया गया था. शुरुवाती दौर में इस तूफान में मरने वालों की संख्या 351 बताई गई थी. अधिकारियों का अनुमान है कि कम से कम 50 हजार लोग अभी भी लापता हैं.


शनिवार को बर्मा में आए तूफ़ान की तीव्रता 190 मीटर प्रति घंटा थी. इस तूफान को 'नर्गिस' का नाम दिया गया था.

 

बर्मा के अधिकांश इलाकों में बिजली और संचार सुविधाएं ठप्प हो गई हैं. बिजली के अभाव में कई इलाकों में पानी के लिए भी हाहाकार मचा हुआ है. रंगून के अलावा कारेन, बागो, मोन, इरावदी जैसे बर्मा के अलग-अलग शहरों में हताहतों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. इन इलाकों को आपदाग्रस्त घोषित कर सेना और बचाव दल को राहत के काम में लगा दिया गया है. बोगाले जैसे शहर पूरी तरह तबाह हो गए हैं और यहां इक्के-दुक्के घर ही सही सलामत बचे हैं.

 

बचाव औऱ राहत के काम में संयुक्त राष्ट्र का राहत दल भी लगा हुआ है. हालांकि बर्मा की सरकार ने इस राहत दल को कुछ इलाकों में प्रवेश की इजाजत नहीं दी है. ज्ञात रहे कि देश में नए संविधान पर जनमत संग्रह हो रहा है. अनुमान लगाया जा रहा है कि जनमत संग्रह के कारण संयुक्त राष्ट्र के बचाव दल को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है.