पहला पन्ना >कला >बात Print | Share This  

बिपाशा ने भोगा आत्मा का नर्क

बिपाशा ने भोगा आत्मा का नर्क

मुंबई. 17 मार्च 2013

बिपाशा बसु


यह एक आम बात है कि हरेक फिल्म को हट के बताया जाये और सुपर्ण वर्मा की फिल्म आत्मा को लेकर बिपाशा बसु भी अगर यह दावा कर रही हैं तो उसमें गलत कुछ भी नहीं है. बिपाशा बसु का कहना है कि इस फिल्म के दौरान वे जिस मानसिक और भावनात्मक नर्क से गुजरी हैं, वह अपने आप में अनूठा है.

22 मार्च को परदे पर आ रही आत्मा में बिपाशा के अलावा अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दिकी मुख्य किरदार निभा रहे हैं। फिल्म में शेरनाज पटेल और बाल अभिनेत्री दोयेल धवन की भी अहम भूमिकाएं हैं.

फिल्म के निर्देशक सुपर्ण वर्मा का कहना है कि दोनों कलाकार अभिनय के ऐसे ‘असुरक्षित क्षेत्र’ में जाने के लिए तैयार थे जहां वह पहले कभी नहीं गए. बिपाशा ‘आत्मा’ की शूटिंग के दौरान भावनात्मक नर्क से गुजरी जबकि नवाज को भी इस किरदार में पूरी तरह रम जाना पड़ा.

सुपर्ण का कहना था कि दोनों कलाकारों को मानसिक रूप से काफी परेशानी झेलनी पड़ी। जब मैं इस फिल्म की कहानी लिख रहा था तो मुझे भी ऐसे ही दौर से गुजरना पड़ा। मैं केवल कल्पना कर सकता हूं कि इस फिल्म का दर्शकों पर क्या असर पर होगा.

वैसे फिल्म में कितना दम है और अपने अभिनय कर्म पर बिपाशा को कितना भरोसा है, यह बात इससे साबित होती है कि बिपाशा पहली बार किसी फिल्म के प्रमोशन के लिये अजमेर गईं और मन्नत मांग कर लौटी हैं.