पहला पन्ना >अंतराष्ट्रीय >दिल्ली Print | Share This  

इतालवी नौसैनिकों की भारत वापसी

इतालवी नौसैनिकों की भारत वापसी

नई दिल्ली. 22 मार्च 2013

इतालवी नौसैनिक


इटली अपने दो नौसैनिकों को मुकदमे का सामना करने के लिए भारत वापस भेज रहा है. इन दोनों नौसेनिकों पर भारत के समुद्री तट के करीब दो भारतीय मछुआरों की हत्या का आरोप है.

गुरूवार को इटली के प्रधानमंत्री ने इटली के रक्षा मंत्री और उपविदेश मंत्री से मुलाक़ात की और इस संबंध में एक बयान जारी किया. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरूद्दीन ने टि्वटर पर लिखा कि राजनयिक संपर्क के बाद इटली ने भारत को सूचित किया है कि भारतीय सुप्रीम कोर्ट को दिए गए हलफ़नामे के अनुसार इटली के नौसैनिक भारत लौटेंगे. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह ने ट्विटर पर लिखा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के सख़्त रवैये के कारण ही इटली को ऐसा करने के लिए मजबूर होना पड़ा.

गौरतलब है कि इटली के इन दो सैनिकों पर आरोप है कि एक साल पहले 15 फरवरी को उन्होंने दो भारतीय मछुआरों अजेश बिंकी (25 वर्षीय) और जेलेस्टाइन (45) की गोली मारकर हत्या कर दी थी. ये दोनों सैनिक इटली के एक जहाज पर तैनात थे ताकि उसे समुद्री लुटेरों से बचा सकें. मासिमिलानो लातोरे और सल्वातोरे गिरोने नाम के इन दो नौसैनिकों को हत्या के आरोप में 19 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था और इन पर मुकदमा शुरु किया था. इस बीच इन दोनों सैनिकों को सुप्रीम कोर्ट ने इटली के आम चुनाव में मतदान करने की अनुमति देते हुये 4 सप्ताह के भीतर भारत लौटने का आदेश दिया था. लेकिन इटली सरकार इससे मुकर गई थी.