पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

केजरीवाल आज से उपवास पर

केजरीवाल आज से उपवास पर

नई दिल्ली. 23 मार्च 2013

अरविंद केजरीवाल


बिजली और पानी के बढ़ते बिल के खिलाफ आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल शनिवार से उपवास पर हैं. गरीब इलाके सुंदर नगरी में शुरु किये गये इस उपवास को लेकर केजरीवाल ने सरकार से कोई मांग नहीं रखी है. उन्होंने शहीद भगत सिंह की शहादत दिवस पर शुरु किये इस कार्यक्रम को असहयोग आंदोलन का नाम दिया है. केजरीवाल का कहना है कि हम लोगों से बिजली और पानी के बिल न देने की अपील करेंगे.

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित बिजली-पानी कंपनियों से मिली हुई हैं. वे जनता के हितों को बेचकर, बार बार बिजली पानी के दाम बढ़ा रही हैं. दूसरी तरफ भाजपा चुप है या फिर विरोध का नाटक करती है. आज यह सबको पता है कि 2010 में डीईआरसी के तत्कालीन चेयरमैन बरजिंदर सिंह ने बिजली के दाम कम करने का आदेश तैयार किया था, लेकिन शीला दीक्षित जी ने इसे रुकवा दिया था. उस आदेश की प्रति दो साल से दिल्ली के भाजपा नेताओं के पास थी लेकिन उनके विधायकों ने दो साल में एक बार भी इसे विधानसभा में नहीं उठाया. आज वो चुनाव के पहले विरोध का नाटक कर रहे हैं. दोनों पार्टियां बिजली-पानी कंपनियों से मिली हुई हैं.

केजरीवाल का आरोप है कि आने वाले कुछ महीनों में दिल्ली में नाटक खेला जाएगा कि डीईआरसी बिजली के दाम बढ़ाएगा, शीला दीक्षित चुनाव के पहले सब्सिडी देकर बिल कम करने का नाटक करेंगी, और भाजपा विरोध का नाटक करेगी. जनता पिसती रहेगी.

आम आदमी पार्टी का मानना है कि अगर बड़ी संख्या में दिल्ली के लोगों ने बिजली पानी के बिल भरने बंद कर दिए, तो बिजली कम्पनियों और सरकार की हिम्मत नहीं होगी कि उनके खिलाफ कनेक्शन काटने जैसी कार्रवाई कर सके. आम आधमी पार्टी ने कहा है कि अगर कुछ लोगों के बिजली पानी कनेक्शन कटते हैं तो हमारी जनता से अपील है वो उसे खुद ही जोड़ लें. अगर उनके खिलाफ केस बनाया जाता है तो डरने की ज़रूरत नहीं है. जब नवम्बर में आम आदमी की सरकार बनेगी तो इस किस्म के सारे केस वापस ले लिए जायेंगे.