पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

टाइम की सूची में अकेले केजरीवाल

टाइम की सूची में अकेले केजरीवाल

नई दिल्ली. 30 मार्च 2013

अरविंद केजरीवाल


टाइम पत्रिका की सूची में दुनिया भर के प्रभावशाली लोगों में भारत से न तो अमिताभ बच्चन का नाम शामिल है और ना ही मनमोहन सिंह का. राहुल गांधी या सोनिया गांधी भी इस सूची में जगह नहीं पा सके. इस बार टाइम की सूची में भारत से केवल सामाजिक कार्यकर्ता अरविंद केजरीवाल का नाम शामिल है. दुनिया भर के 153 लोगों के बीच अब ऑनलाइन मतदान शुरु किया गया है, जिसके परिणाम के आधार पर फिर 100 लोगों की सूची बनाई जायेगी.

इस मतदान का परिणाम 18 अप्रैल को सामने आयेगा लेकिन अरविंद केजरीवाल अभी से इन 153 लोगों में तीसरे नंबर पर हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि 12 अप्रैल तक चलने वाले मतदान में वे बेहतर स्थिति में होंगे.

हालांकि इन सबों से अनजान अरविंद केजरीवाल का कहना है कि उन्हें इस तरह की किसी सर्वेक्षण की कोई जानकारी नहीं है. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वे जनता के लिये काम करते हैं और उनका ध्येय किसी भी तरह से किसी रिकार्ड को तोड़ने या अपना नाम किसी सूची में शामिल करने का नहीं है. उन्होंने कहा कि इस तरह की सूचियों का उनके लिये कोई खास महत्व नहीं है.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

SANJAY SHRIVSTAVA [sanjay.anmol.indore@gmail.com] INDORE - 2013-03-30 03:52:11

 
  Congrats, Mr Kejriwal is fighting for indian political system. All Indian legal demand, corruption, crime, rate control, every Indian employment, food, shelter, education, cloth, economic unfairness, work distribution, quality control, girls education with employment, crime control, etc. We demand all Indian voter compulsory voting, this is must for every one. if not voting all govt. facility stop. 
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in