पहला पन्ना >मुद्दा >महाराष्ट्र Print | Share This  

मोना सिंह के एमएमएस का राज खुलेगा

मोना सिंह के एमएमएस का राज खुलेगा

मुंबई. 30 मार्च 2013

मोना सिंह


मुंबई पुलिस के सूत्रों का कहना है कि अभिनेत्री मोना सिंह के कथित अश्लील एमएमएस के मामले में जल्दी ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा. फिलहाल साइबर विशेषज्ञ पूरे मामले की जांच कर रहे हैं. पुलिस सूत्रों का कहना है कि साइबर एक्सपर्ट इंटरनेट पर लोड किये गये एमएमएस के उस स्रोत कंप्यूटर के आईपी एड्रेस तक पहुंचने में कामयाब हो गये हैं.

गौरतलब है कि कथित रुप से मोना सिंह का एक एमएमएस इन दिनों इंटरनेट पर डाला गया है, जिसमें मोना जैसी शक्ल वाली लड़की लगभग नग्न अवस्था में अश्लील हरकतें करती नजर आ रही है. मोना सिंह ने अपने अश्लील एमएमएस को लेकर साइबर क्राइम ब्रांच में शिकायत दर्ज कराई है. मोना ने कहा कि इस विषय में बस इतना ही बोल सकती हूं कि यह महिला मेरी तरह दिखने वाली जरूर हो सकती है लेकिन यह मेरा एमएमएस नहीं है. यह बिल्कुल फर्जी है.

मोना की तरह ही दिखने वाली महिला का एमएमएस चर्चा का विषय बना हुआ है. 23 सेकेंड का यह वीडियो क्लिप किसी स्मार्टफोन से लिया गया है. ऐसा लग रहा है कि यह क्लिप किसी जानने वाले ने ही तैयार की है जिसे यह महिला वीडियो बनाने के लिए उकसा रही है. टीवी इंडस्ट्री से जुड़े लोगों के मुताबिक, ऐसा लगता है कि टीवी एक्ट्रेस की इमेज खराब करने के इरादे से जानबूझ कर यह एमएमएस लीक किया गया है. वह कामयाब टीवी कलाकार हैं और शायद उनकी यह सफलता किसी को हजम नहीं हो रही है.

लेकिन एक बड़ा वर्ग ऐसा है, जो मानता है कि मोना सिंह को चर्चा में लाने के लिये यह सब कुछ किया गया है. सवाल यही है कि इस एमएमएस को जिस कंप्यूटर से लोड किया गया है, उसके बारे में पता लगाना बहुत मुश्किल नहीं है. लेकिन ऐसी हर खबर के बाद और साइबर सेल में शिकायत के बाद कुछ दिनों तक ऐसे एमएमएस में छौंक-बघार लगाई जाती है और फिर मामला शांत हो जाता है. क्या मोना सिंह के कथित एमएमएस का यही हाल होगा?

असल में बाजार का एक खास चरित्र होता है. पिछले दो दशकों में यह बात और साफ हुई है कि बिकता है सो टिकता है व टिकता है सो बिकता है; के इस समय में बाजार ने अपने तरीके से मूल्य गढ़े हैं. जहां किसी भी तरीके से बाजार में बने रहने की कोशिश होती है. अगर मोना सिंह के किसी समर्थक की ओर से यह कोशिश न भी हुई हो तो भी बाजार में ऐसी बहसें तो बनी ही रहेंगी और इसका लाभ भी बाजार अपने तरीके से उठाएगा. हालांकि पुलिस सूत्रों का दावा है कि उन्होंने एमएमएस के स्रोत का जल्दी ही पता चल जायेगा लेकिन भारत और दुनिया में तेजी से पैर पसारते पोर्न इंडस्ट्री पर कोई कार्रवाई कर पाने में असफल रही पुलिस इस मामले में कुछ खास कर पायेगी, उसको लेकर बहुत आश्वस्त नहीं हुआ जा सकता.