पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

सपा ने की कांग्रेस के गढ़ में बिजली गुल

सपा ने की कांग्रेस के गढ़ में बिजली गुल

लखनऊ. 12 अप्रैल 2013.

सोनिया और राहुल गांधी


समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बिगड़ते रिश्तों की एक बानगी तब देखने को मिली जब कांग्रेस के गढ अमेठी और रायबरेली में अखिलेश सरकार ने बिजली कटौती फिर शुरु कर दी. इससे पहले अमेठी और रायबरेली राज्य के उन नौ इलाकों (इटावा, मैनपुरी, कन्नौज, रामपुर, आगरा, लखनऊ और सम्भल) में शामिल थे जिनमें दिन के 24 घंटे बिजली उपलब्ध रहती थी.

अब राज्य के विद्युत निगम ने इन दो शहरों को बिजली सप्लाई के मामले में वीवीआईपी इलाकों का मिला हुआ दर्जा हटा लिया है और गुरुवार से यहीं भी बिजली कटौती शुरु कर दी गई है. अब सोनिया गांधी के चुनावी क्षेत्र रायबरेली में तीन घंटे और राहुल गांधी के चुनाव क्षेत्र में चार घंटे बिजली गुल रहेगी.

इस बारे में विद्युत निगम के अधिकारियों का कहना है कि बिजली की मांग में हुई अचानक वृद्धि के कारण तात्कालिक रूप से कटौती की जा रही है और जल्द ही स्थिति वापस वैसी ही होगी. हालांकि राजनीति के जानकार इसे समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बिगड़ते रिश्तों से जोड़कर देख रहे हैं.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में बिजली की उपलब्धता की बहुत किल्लत है लेकिन सोनिया गांधी द्वारा बीते साल अनुरोध करने पर अमेठी और रायबरेली में निर्बाध बिजली उपलब्ध कराई जा रही थी.