पहला पन्ना >अंतरराष्ट्रीय >अमरीका Print | Share This  

बॉस्टन विस्फोट में कुकर बम

बॉस्टन विस्फोट में कुकर बम

बॉस्टन. 17 अप्रैल 2013

बॉस्टन विस्फोट


अमरीका के बॉस्टन में हुये बम धमाकों को प्रेशर कुकर से अंजाम दिया गया था. जांच एजेंसियों का कहना है कि प्रेशर कुकर के अंदर विस्फोटक भर कर टाइमर की मदद से ये तीनों धमाके किये गये. सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि इन धमाकों में उन्हें देश के भीतर के ही किसी संदिग्ध का हाथ होने की आशंका है.

गौरतलब है कि बॉस्टन में मेराथन के दौरान तीन बम विस्फोट हुये थे. बोस्टन में यह धमाका ऐसे अवसर पर हुआ, जब वहां मेराथन रेस चल रही थी. पुलिस के अनुसार पहला धमाका बॉस्टन मैराथन रेस के विजेताओं के रेस ख़त्म होने वाली लाइन पार करने के लगभग दो घंटों बाद उसी लाइन के पास हुआ और दूसरा धमाका भी ठीक उसी के आस-पास कुछ सेकंडों के बाद हुआ. एफबीआई ने शुरुआती आकलन में कहा था कि यह एक चरमपंथी कार्रवाई हो सकती है.

इस घटना के बाद राष्ट्र को संबोधित करते हुये अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा था कि बॉस्टन धमाकों के ज़िम्मेदार लोगों को इसकी क़ीमत चुकानी होगी.अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि हमलोग अभी तक नहीं जानते हैं कि ये धमाके किसने और क्यों किए हैं. लोगों को कोई नतीजा नहीं निकालना चाहिए जब तक कि हमारे पास सारे तथ्य न आ जाएं. लेकिन किसी को भी कोई ग़लतफ़हमी नहीं होनी चाहिए. हमलोग इसकी जड़ तक जाएंगे और खोज निकालेंगे कि ये किसने और क्यों किए हैं. उन्होंने कहा कि जिसने भी ये किया है अमरीका उसको खोज निकालेगा. ओबामा ने कहा कि ये ब्लास्ट एक जघन्य और कारयाना कदम थे. एफबीआई इस आतंकी घटना की जांच कर रही है.