पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

भाजपा मांगती रहे इस्तीफा-सोनिया

भाजपा मांगती रहे इस्तीफा-सोनिया

नई दिल्ली. 23 अप्रैल 2013

सोनिया गांधी


सोनिया गांधी ने साफ कर दिया है कि कोयला घोटाले में नाम आने के बाद प्रधानमंत्री या उनकी सरकार का कोई भी मंत्री इस्तीफा नहीं देगा. कांग्रेस कोर ग्रूप की बैठक के बाद सोनिया गांधी से जब भाजपा द्वारा इस्तीफा मांगे जाने का सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा-उन्हें मांगने दीजिए.

गौरतलब है कि कोयला घोटाला और 2जी पर जेपीसी की रिपोर्ट को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने सरकार पर हमला तेज करते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का इस्तीफा मांगा था. इसके अलावा कोयला घोटाला पर सीबीआई रिपोर्ट में हस्तक्षेप के मामले पर कानून मंत्री अश्विनी कुमार को तुरंत पद से हटाए जाने की मांग की थी.

इससे पहले लालकृष्ण आडवाणी की अध्यक्षता में भाजपा संसदीय दल की बैठक हुई. बैठक में प्रस्ताव पारित कर कहा गया कि सरकार कोयला घोटाला से जुड़े तथ्यों को दबाने की कोशिश कर रही है. सीबीआई की रिपोर्ट में फेरबदल करने के आरोपों के मद्देनजर इसमें मांग की गई कि प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह और कानून मंत्री अश्विनी कुमार दोनों को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए.

भाजपा प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि अश्विनी कुमार और प्रधानमंत्री कार्यालय पूरी तरह से घोटाले में शामिल हैं. सवाल यह उठता है कि सीबीआई को कब से कानून मंत्री के रूप में एक अंग्रेजी ट्यूटर की जरूरत हो गई है? रिपोर्ट को किसी भी मंत्री के साथ साझा नहीं करने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद सीबीआई ने ऐसा किया. प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय भी 2 जी घोटाले में शामिल रहा है. आज हमने फैसला किया है कि पीएम मनमोहन सिंह को इस्तीफा देना चाहिए और कानून मंत्री अश्विनी कुमार को बर्खास्त किया जाना चाहिए. हमारी पार्टी इस मुद्दे को गंभीरता से ले रही है.

लेकिन मनमोहन सिंह के इस्तीफे के मुद्दे पर कांग्रेस आज कुछ ज्यादी ही कड़क नजर आई. संसदीय कार्य मंत्री कमलनाथ ने कहा है कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के इस्तीफे का सवाल ही नहीं उठता है. कमलनाथ ने कहा कि पिछले 9 सालों में भारतीय जनता पार्टी ने कई बार प्रधानमंत्री का इस्तीफा मांगा है. यह राजनीति में होता है. पीएम के इस्तीफे का सवाल ही नहीं उठता. शाम होते-होते सोनिया गांधी ने भी इस बयान पर अपनी मुहर लगा दी और भाजपा के इस्तीफे की मांग पर जवाब दे दिया- उन्हें मांगने दीजिए.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in