'

 पहला पन्ना > राष्ट्र Print | Send to Friend | Share This 

बाढ़ से स्थिति गंभीर, 200 मृत

बाढ़ की स्थिति चिंताजनक, 200 मृत

नई दिल्ली. 04 अक्टूबर 2009

 

आंध्र प्रदेश और कर्नाटक राज्य के कई जिलों में बाढ़ से स्थिति भयावह बनी हुई है. आशंका जताई जा रही है बाढ़ से अब तक लगभग 200 लोगों को अपनी जान गवानी पड़ी है. लगातार हो रही बारिश से बाढ़ की स्थिति और बिगड़ती जा रही है. इस बाढ़ में कर्नाटक के 15 वहीं आंध्र प्रदेश के 5 जिले जलमग्न हो गए हैं और लगभग 18 लाख लोग बाढ़ का कहर झेल रहे हैं.

दोनों राज्यों में सेना के हेलीकॉप्टरों, नौकाओं और राष्ट्रीय आपदा राहत बल के दलों द्वारा राहत व बचाव कार्य लगातार चल रहा है. सेना के जवान लगातार बाढ़ग्रस्त इलाकों में हेलीकॉप्टरों के मदद से खाने के पैकेट गिरा रहे हैं. केंद्र सरकार ने इस प्राकृतिक विपदा से निपटने के लिए राज्य सरकारों को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है. भारी बारिश का असर रेल यातायात पर भी पड़ा है और कुछ जिलों में रेल पटरियों के बह जाने के खबर सामने आई हैं. इसी वजह से आंध्रप्रदेश और कर्नाटक की ओर जाने वाली कई ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं और इन राज्यों का बाकी देश से संपर्क कट गया है.

इधर पिछले दो दिनों से महाराष्ट्र के कुछ जिलों में भी लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. राज्य के कोकंण इलाके में लगातार बाढ़ के हालात बन रहे हैं. खासकर रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग और चिपलून जिलों में बारिश ने कहर बरपा रखा है. बाढ़ की आशंका को देखते हुए गोवा के कोंकण इलाके में राहत कार्य के लिए सेना तैनात की गई है.