पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

सिख विरोधी दंगो में तीन को उम्रकैद

सिख विरोधी दंगो में तीन को उम्रकैद

नई दिल्ली. 9 मई 2013

anti sikh riots


दिल्ली की कड़कड़डूमा अदालत ने 1984 के सिख विरोधी दंगों के जुड़े एक मामले में तीन दोषियों को उम्रकैद की जबकि दो अन्य को 3-3 साल कैद की सज़ा सुनाई है. गुरुवार को जिला एवं सत्र न्यायधीश जे.आर.आर्यन ने बलवान खोक्कर, गिरधारी लाल और कैप्टन भागमल को आजीवन कारावास और महेंद्र यादव और कृष्ण खोखर को तीन-तीन साल कैद की सज़ा सुनाई.

मामले की पिछली सुनवाई 30 अप्रैल को हुई थी जिस दौरान अदालत ने इन पाँचों को दोषी पाया था लेकिन इनकी सज़ा अगली सुनवाई तक के लिए टाल दी गई थी. इन पाँचों के अलावा पूर्व कांग्रेस सांसद सज्जन कुमार का नाम भी इस मामले में आया था लेकिन अदालत ने यह कह कर बरी कर दिया था कि वे `संदेह के लाभ’ के हकदार है.

यह मामला 1984 के सिख विरोधी दंगों के दौरान दिल्ली छावनी इलाके में स्थित राजनगर में पाँच सिखों केहर सिंह, गुरप्रीत सिंह, रघुवेंद्र सिंह, नरेंद्र पाल सिंह और कुलदीप सिंह की भीड़ द्वारा की गई हत्या से संबंधित है. ये पाँचो एक ही परिवार के सदस्य थे.
 

उल्लेखनीय है कि वर्ष 1984 में 31 अक्टूबर को तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की उनके सुरक्षा कर्मियों द्वारा हत्या के बाद सिख विरोधी दंगे भड़क गए थे.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in