पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

शर्मा बने नए कैग, नियुक्ति पर उठे सवाल

शर्मा बने नए कैग, नियुक्ति पर उठे सवाल

नई दिल्ली. 23 मई 2013

Shashikant Sharma


रक्षा सचिव शशिकांत शर्मा ने देश के नए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) के पद की शपथ ग्रहण कर ली है. शर्मा बिहार कैडर के 1976 बैच के आईएएस अधिकारी हैं जिन्होंने बुधवार को साढ़े पाँच साल के कार्यकाल के बाद रिटायर हुए विनोद राय की जगह ली है. एक आधिकारिक बयान के अनुसार शर्मा 24 सितंबर 2017 तक इस पद की जिम्मेदारी संभालेंगे.

शर्मा की कैग के पद पर नियुक्ति पर भाजपा समेत सभी विपक्षी पार्टियों ने सवाल उठाए हैं. ऐसा इसीलिए है कि शर्मा विवादित अगस्तावेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाले के समय भी रक्षा सचिव थे और उन पर भी रिश्वतखोरी के आरोप लगे थे. अब नए कैग के रूप में इस मामले की ऑडिट रिपोर्ट उन्ही के कार्यकाल में बनेगी.

शर्मा की नियुक्ति को लेकर विपक्षी पार्टियों ने कहा है कि चूंकि कैग की नियुक्ति की कोई स्पष्ट प्रक्रिया नहीं है इसीलिए केंद्र सरकार ने अपने विश्वासपात्र व्यक्ति को इस महत्वपूर्ण पर पर बैठा दिया है. पार्टियों का ये भी कहना है कि शर्मा के कैग पद पर बैठने से हितों के टकराव की स्थिति बनेगी.

अब शर्मा की कैग के पद पर नियुक्ति को चुनौती देती हुई एक जनहित याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई है. याचिका में इस नियुक्ति से जुडे़ नियमों को दोबारा से जाँचने-परखने और अन्य किसी भी आदेश तक कैग की नियुक्ति को रोक देने की अपील की गई है. इस याचिका की सुनवाई जुलाई माह में होगी.