पहला पन्ना > राजनीति Print | Send to Friend 

प्रचंड और ज्ञानेंद्र की होगी मुलाकात

प्रचंड और ज्ञानेंद्र की होगी मुलाकात


काठमांडू. 8 मई, 2008
अगर सब कुछ ठीकठाक रहा तो माओवादी नेता नेता पुष्प कमल दहल ऊर्फ प्रचंड और राजा ज्ञानेंद्र जल्दी ही एक दूसरे के सामने बैठेंगे.


माओवादी नेता प्रचंड ने कहा है कि राजशाही के भविष्य पर चर्चा के लिए राजा ज्ञानेंद्र उनसे मिलना चाहते हैं, ऐसा संदेश उन्हें राजमहल से मिला है.

 

क्या प्रचंड राजा ज्ञानेंद्र से मिलेंगे ? इस सवाल के जवाब में उन्होंने सकारात्मक संकेत देते हुए कहा कि हम भी राजा ज्ञानेंद्र की सम्मानजनक विदाई चाहते हैं. और इस उद्देश्य से राजा ज्ञानेंद्र से मिलने में उन्हें कोई हर्ज नहीं है.


इससे पहले प्रचंड द्वारा राजा ज्ञानेंद्र को महल से निकाल फेंकने और उन्हें जंगलों में भेजने जैसे बयान के कारण माना जा रहा था कि राजा ज्ञानेंद्र और माओवादियों के बीच बातचीत की संभावना लगभग खत्म हो गई है लेकिन प्रचंड के ताजा संकेत के बाद राजनीतिक गलियारों में ये उम्मीद जगी है कि राजा ज्ञानेंद्र किसी दुर्व्यवहार के शिकार नहीं होंगे.


हालांकि प्रचंड ने यह भी साफ कहा है कि संविधान सभा की पहली बैठक के साथ ही राजा ज्ञानेंद्र को इस्तीफा दे देना चाहिए.