पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >सियासत Print | Share This  

नाबालिग से सेक्स में बर्लुस्कोनी को सजा

नाबालिग से सेक्स में बर्लुस्कोनी को सजा

रोम. 25 जून 2013

सिल्वियो बर्लुस्कोनी


इटली के पूर्व प्रधानमंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी को नाबालिग सेक्स वर्कर को भुगतान करने के मामले में दोषी ठहराते हुए सात साल की सजा सुनाई गई है. अदालत ने माना कि बर्लुस्कोनी ने सत्ता का दुरुपयोग किया, इस कारण उनके सार्वजनिक पद संभालने या उसका चुनाव लड़ने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है.

गौरतलब है कि 76 साल के बर्लुस्कोनी अपने महिला प्रेम के लिये कुख्यात रहे हैं. सैकड़ों महिलाओं के साथ देह संबंध और ऐसी ही पार्टियां करने वाले बर्लुस्कोनी पर आरोप था कि उन्होंने एक नाबालिग सेक्स वर्कर के साथ संबंध बनाये थे और उस नाबालिग को भुगतान भी किया था. आरोप है कि 17 साल की करीमा एल महरोग ऊर्फ रूबी को मिलान में बर्लुस्कोनी के निजी आवास पर बुलाया गया था, जहां तथाकथित बंगा बंगा पार्टी आयोजित की गई थी. आरोप है कि ये पार्टी उस वेश्यावृत्ति तंत्र का हिस्सा थी जो बर्लुस्कोनी की यौन संतुष्टि के लिए कायम किया गया.

बर्लुस्कोनी को सरकारी वकील ने 6 साल की सजा सुनाने का अनुरोध किया था लेकिन अदालत ने उससे कहीं आगे जा कर उन्हें 7 साल की सजा सुनाई. उन्हें जब सजा सुनाया गया तो बर्लुस्कोनी के कुछ विरोधियों ने उस समय अदालत में इटली का राष्ट्रगान भी गाया. हालांकि बर्लुस्कोनी को फिलहाल जेल जाने से मुक्ति मिल सकती है क्योंकि जब तक कोई भी फैसला दो स्तरों पर स्वीकार्य नहीं होता, तब तक आरोपी को जेल नहीं भेजा जा सकता. इसके अलावा 70 साल से अधिक उम्र के अपराधियों को लेकर भी इटली का कानून उदार है. ऐसे में बर्लुस्कोनी कब जेल जाएंगे, ये देखना दिलचस्प होगा.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in