पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

मुंडे हो सकते हैं संसद से बाहर

मुंडे हो सकते हैं संसद से बाहर

नई दिल्ली. 29 जून 2013

गोपानीथ मुंडे


भाजपा के वरिष्ठ नेता गोपीनाथ मुंडे को संसद से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है. इसके अलावा उन्हें चुनाव के अयोग्य भी ठहराया जा सकता है. भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त वीएस सपंत ने कहा है कि इस मामले में उचित कार्रवाई की जाएगी.

गौरतलब है कि गुरुवार को एक आयोजन में गोपीनाथ मुंडे ने सार्वजनिक तौर पर कहा था कि उन्होंने अपने पहले चुनाव में 29 हजार रुपये खर्च किये थे, जबकि पिछले चुनाव में उन्होंने चुनाव आयोग की निर्धारित रकम से कहीं अधिक 8 करोड़ रुपये खर्च किये थे. मुंडे का कहना था कि काला धन पर काबू के लिए सरकार को चुनाव खर्च वहन करना चाहिए.

अब मुंडे इस बयान के बाद मुश्किल में आ गये हैं. चुनाव आयोग ने एक ओर जहां मुंडे के खिलाफ तथ्य एकत्र करने के बाद कार्रवाई करने की बात कही है, वहीं कांग्रेस ने भी मोर्चा खोल दिया है. कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने कहा है कि गोपीनाथ मुंडे की टिप्पणी से पता लगता है कि उन्होंने चुनाव खर्च कानून का उल्लंघन किया है और चुनाव आयोग को इस पर गौर करना चाहिए. उन्होंने कहा कि पिछले आम चुनाव में अपने चुनाव प्रचार पर आठ करोड़ रुपये खर्च करने संबंधी गोपीनाथ मुंडे की टिप्पणी के बाद उन्हें लोकसभा की सदस्यता के लिए अयोग्य घोषित किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं मुंडे से पूछताछ और उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए चुनाव आयोग से अनुरोध करूंगा.