पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

महाबोधि ब्लास्ट का मोदी कनेक्शन-दिग्विजय

महाबोधि ब्लास्ट का मोदी कनेक्शन-दिग्विजय

नई दिल्ली. 8 जुलाई 2013

दिग्विजय सिंह


बोधगया के महाबोधि मंदिर में हुए धमाकों का कहीं नरेंद्र मोदी से कोई संबंध तो नहीं ? यह आशंकानुमा निशाना कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने साधते हुये भाजपा को फिर लपेटने की कोशिश की है.

दिग्विजय सिंह ने कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री मोदी ने शनिवार को दिए गए भाषण में नीतीश कुमार को सबक सिखाने की बात कही थी और अगले ही दिन धमाका हो गया. कहीं इन दोनों के बीच कोई कनेक्शन तो नहीं है?

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट पर बहुत सावधानी से निशाना साधते हुये कहा है कि ब्लास्ट से ठीक पहले अमित शाह ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने की बात कही. मोदी बिहार भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार को सबक सिखाने की बात कहते हैं. अगले ही दिन बोधगया के महाबोधि मंदिर में धमाके होते हैं. क्या इन सब में कोई कनेक्शन है? मुझे नहीं मालूम? प्लीज, जांच को पूरा होने दीजिए.

गौरतलब है कि दिग्विजय सिंह ने पहले भी आरोप लगाया था कि गैर भाजपाई राज्यों को सतर्क रहना चाहिये. दिग्गी ने कहा था कि भाजपा चुनाव जीतने के लिये किसी भी तरह के दंगे करवा सकती है. उन्होंने कहा था कि मैंने देखा कि रविशंकर प्रसाद कह रहे थे कि संभवत: पुणे बेकरी ब्लास्ट के दोषी महाबोधि मंदिर की रेकी कर रहे थे. यह घृणा और साम्प्रदायिक राजनीति का हिस्सा है, जिसमें भाजपा को महारत हासिल है. कर्नाटक में प्रदेश कांग्रेस कमिटी की आमसभा की बैठक में दिग्गी ने कहा था कि भाजपा अनुभव कर रही है कि बिना सांप्रदायीकरण के वह चुनाव में जीत नहीं सकती है. जाहिर है, दिग्विजय सिंह के ताजा बयान को लेकर भाजपा में रोष है लेकिन पार्टी की ओर से अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in