पहला पन्ना > अंतरराष्ट्रीय Print | Send to Friend | Share This 

परमाणु कार्यक्रम पर ईरान की निंदा

परमाणु कार्यक्रम पर ईरान की निंदा

नई दिल्ली. 28 नवंबर 2009


अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी यानी आईएईए ने गुपचुप तरीके से यूरेनियम संवर्धन केंद्र बनाने के लिए ईरान की निंदा की है. आईएईए ने वियना में हुई बैठक में ईरान के ख़िलाफ़ प्रस्ताव पारित किया और उससे इस परियोजना को तत्काल प्रभाव से बंद करने की माँग की.

शुक्रवार को पारित हुए प्रस्ताव की ख़ास बात ये रही कि रूस और चीन ने भी इसका समर्थन किया जो परोक्ष तरीके से ईरान के समर्थक माने जाते हैं. भारत ने भी इस मुद्दे पर अमरीका का समर्थन किया और ईरान की निंदा की.

उधर अमरीका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेम्स जोन्स ने कहा है कि भारत ईरानी नेतृत्व को समझाने के लिए अपने प्रभाव का इस्तेमाल करे ताकि वह कम संवर्धित यूरेनियम के अत्यंत उचित और पूरी तरह ठीक प्रस्ताव को स्वीकार कर ले. एक साक्षात्कार में जोन्स ने कहा कि भारत ईरान को इस बात के लिए सहमत करने में मददगार हो सकता है.