पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

अलग तेलंगाना राज्य पर सहमत कांग्रेस

अलग तेलंगाना राज्य पर सहमत कांग्रेस

नई दिल्ली. 27 जुलाई 2013

ambassador


लोकसभा चुनावों को नज़दीक आते देख कांग्रेस ने अलग तेलंगाना राज्य के मुद्दे पर निर्णय लेने का मन बना लिया है. शुक्रवार शाम को हुई कांग्रेस की कोर ग्रुप बैठक में आम सहमति बनने के बाद पृथक तेलंगाना राज्य की घोषणा जल्द ही की जा सकती है. इस बैठक में सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी मौजूद थे.

माना जा रहा है मानसून सत्र से पहले अलग तेलंगाना राज्य की घोषणा भी की जा सकती है. इस बैठक के बाद कांग्रेस महासचिव और आंध्र प्रदेश के प्रभारी दिग्विजय सिंह बोले, ‘विचार-विमर्श की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. अब फैसले का वक्तं आ गया है और आप लोग निर्णायक फैसले का इंतजार कीजिए’.

सूत्रों की मानें तो नवगठित राज्य की राजधानी कुछ वर्षों तक हैदराबाद ही रहेगी और फिर तेलंगाना के लिए अलग राजधानी बनाई जाएगी. पृथक तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में 21-21 लोकसभी सीटें रहेंगी. माना जा रहा है कि कांग्रेस लोकसभा चुनावों को देखते हुए इन सभी सीटों पर कब्जा जमाने के लिए यह कदम उठा रही है.

कई सालों से लंबित अलग तेलंगाना के मुद्दे पर कांग्रेस में आमर सहमति बन गई है और इसकी घोषणा मॉनसून सत्र से पहले ही हो जाएगी यानी जल्द ही भारत में राज्यों की संख्या 28 से बढ़कर 29 होने जाएगी