पहला पन्ना >राज्य >बिहार Print | Share This  

शर्मनाक बयान पर मंत्री ने मांगी माफी

शर्मनाक बयान पर मंत्री ने मांगी माफी

पटना. 8 अगस्त 2013

भीम सिंह


बिहार के ग्रामीण कार्य मंत्री भीम सिंह ने शहीद जवानों के बारे में दिए अपने शर्मनाक बयान पर खेद प्रकट करते हुए माफी मांग ली है. जनता दल यूनाइटेड (जदयू) प्रमुख और राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपने बयान पर कड़ी फटकार खाने के बाद उन्होंने माफी मांगी. हालांकि उन्होंने साथ में बयानवीरों का पसंदीदा वाक्य भी दोहराया कि उनके बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया है.

गौरतलब है कि गुरुवार को एक पत्रकार ने जब शहीद जवानों के शवों के आगमन पर बुधवार को पटना हवाई अड्डे पर किसी मंत्री के नहीं पहुंचने पर सवाल किया तो सिंह ने कहा कि, “जवान शहीद होने के लिए ही होते हैं. लोग सेना और पुलिस में नौकरी क्यों लेते हैं? शहादत के लिए ही लोग सेना में शामिल होते हैं.“ साथ ही उन्होंने पत्रकार पर ही जवाबी हमला बोलते हुए कहा कि आप या आपके माता-पिता क्यों नहीं नागरिक के तौर पर वहां गए?

अपने मंत्री भीम सिंह के इस असंवेदनशील बयान पर नीतीश सरकार को भारी आलोचना झेलनी पड़ी जिसके बाद उन्होंने भीम सिंह को फटकार लगाते हुए अपना बयान वापस लेने को कहा. उन्होंने स्वयं भी इस पर माफी मांगते हुए कहा कि शहीदों का सम्मान करना हमारा कर्तवय है और हम उनके एहसान कभी भूल नहीं सकते हैं.

वहीं विपक्षी पार्टियों ने इस पर सरकार को आड़े हाथ लिया है. आरजेडी ने भीम सिंह के इस्तीफे की मांग की है जबकि भाजपा नेता राजीव प्रताप रूड़ी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपने मंत्री को बर्खास्त कर देना चाहिए.

उल्लेखनीय है कि जम्मू कश्मीर के पुंछ में शहीद हुए भारतीय सेना के पांच जवानों में से चार जवानों के शव बिहार की राजधानी पटना पहुंचे थे. परंतु जब शव रात के 10 बजे पटना के हवाई अड्डे पर पहुंचे तो बिहार सरकार का कोई मंत्री वहां उपस्थित नहीं था.