पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

मोदी की टोपी पर दिग्गी की सलाह

मोदी की टोपी पर दिग्गी की सलाह

सागर. 11 अगस्त 2013

दिग्विजय सिंह


कांग्रेस महासचिव और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा है कि टोपी पहनने से किसी का धर्म नहीं बदल जाता, लिहाजा गुजरात के मुख्यमत्री नरेंद्र मोदी को टोपी पहन लेनी चाहिए थी.

सागर मे आयोजित कांग्रेस के सम्मेलन में हिस्सा लेने आए सिंह ने रविवार को बीना में संवाददाताओं से कहा कि कट्टरवादी हिंदू और कट्टरवादी मुसलमान समाज के लिए घातक हैं, दोनों पर नजर रखने की जरुरत है, क्योंकि यही समाज में गड़बड़ियां फैलाते हैं. धर्म की राजनीति करने वाले सभी एक ही थैले के चट्टे-बट्टे हैं.

उल्लेखनीय है कि सितम्बर 2011 में गुजरात में सद्भावना दिवस के मौके पर मोदी ने एक मुस्लिम मौलाना के हाथों टोपी पहनने से इंकार कर दिया था. इस मुद्दे पर सिंह ने कहा कि केवल टोपी पहनने से किसी का धर्म नहीं बदल जाता, हम भी टोपी पहनते हैं, मोदी को भी टोपी पहन लेनी चाहिए थी.

फसल के नुकसान के बाद भी किसानों को राहत राशि न मिल पाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि किसानों को राहत देने के लिए केंद्र सरकार राशि आवंटित करती है, यह राज्य सरकार की जिम्मेदारी होती है कि वह नुकसान का आंकलन कराए. किसानों को फसल के नुकसान पर राहत राशि मिले, यह जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है, क्योंकि केंद्र सरकार हर साल राहत राशि राज्य सरकार को देती है.