पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

जीएसएलवी-डी5 प्रक्षेपण ईंधन रिसाव के बाद टला

जीएसएलवी-डी5 प्रक्षेपण ईंधन रिसाव के बाद टला

श्रीहरिकोटा. 19 अगस्त 2013

इसरो


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने भारी प्रक्षेपण यान, जियोसिन्क्रोनस सैटेलाइट लांच व्हीकल-डी5 (जीएसएलवी-डी5) का प्रक्षेपण स्थगित कर दिया है. लांच होने के कुछ ही समय पहले इंजन के दूसरे चरण में फ्यूल सिस्टम में लीक होने की वजह से यह फैसला किया गया. इसरो के प्रवक्ता ने बताया है कि प्रक्षेपण की नई तिथि की घोषणा बाद में की जाएगी.

उल्लेखनीय है कि जीएसएलवी-डी5 के प्रक्षेपण के लिए रविवार पूर्वाह्न् 11.50 बजे उल्टी गिनती शुरू हुई थी. सोमवार अपराह्न 4.50 बजे प्रक्षेपण यान के छोड़े जाने का समय निर्धारित था. भारी वजन वहन कर सकने वाले इस विशाल प्रक्षेपण यान को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण स्थल से छोड़ा जाना था.

यह प्रक्षेपण यान अपने साथ एक संचार उपग्रह भी ले जाने वाला था. प्रक्षेपण यान के निर्माण पर लगभग 160 करोड़ रुपये तथा उपग्रह के निर्माण पर लगभग 45 करोड़ रुपये की लागत आई है. इस प्रक्षेपण यान की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसमें लगा क्रायोजेनिक इंजन पूर्णत: देश में ही इसरो द्वारा विकसित किया गया है.

अब अगली तिथि पर जब भी इसका प्रक्षेपण होगा, पिछले तीन वर्षो में जीएसएलवी का यह पहला मिशन होगा. इससे पहले 2010 में जीएसएलवी प्रक्षेपण यान का दो प्रक्षेपण विफल हो गया था.