पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

आसाराम के लिये तिहाड़ बैकुंठ

आसाराम के लिये तिहाड़ बैकुंठ

जोधपुर. 24 अगस्त 2013

आसाराम बापू


नाबालिग से रेप के आरोप में फंसे आसाराम बापू ने कहा है कि मैं बेकसूर हूं. जिस लड़की ने मेरे खिलाफ रिपोर्ट लिखाई है, उसे कुछ लोगों ने गुमराह किया है. देर-सवेर वह और उसका परिवार इसका एहसास करेंगे और मेरे पास आएंगे.

आसाराम ने कहा कि रेप का आरोप लगाना यह एक साजिश है. मैं जानता हूं कि इसके पीछे कौन है लेकिन मैं उनका नाम नहीं बताना चाहता. आसाराम ने कहा कि अगर सरकार मुझे जेल में भी डाल देती है, तो हंसते हुए जेल जाने को तैयार हूं. मैं तिहाड़ जेल में कुछ समय बिताना चाहता हूं. मैं समझता हूं कि जेल मेरा बैकुंठ है.

रेप के आरोप को लेकर उन्होंने कहा कि महात्मा बुद्ध को भी ऐसे आरोप झेलने पड़े थे. आसाराम ने कहा कि लड़की उनकी पोती जैसी है और उसके साथ वह ऐसा काम कैसे कर सकते हैं.

गौरतलब है कि 74 साल के आसाराम पर 16 साल की बच्ची ने यौन शोषण का आरोप लगाया है. दिल्ली के कमला मार्केट थाने ने मेडिकल जांच के बाद आसाराम के खिलाफ दुष्कर्म की धारा 376 में केस दर्ज कर लिया है. मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा आश्रम में पढऩे वाली यह बच्ची पिता के साथ 19 अगस्त को दिल्ली पहुंची और एफआईआर लिखाई. बच्ची ने बताया आसाराम ने 15 अगस्त को जोधपुर के मणाई आश्रम में बंधक बनाकर गलत काम किया.