पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

भाजपा रच रही दंगों की साजिश: मुलायम

भाजपा रच रही दंगों की साजिश: मुलायम

नई दिल्ली. 26 अगस्त 2013

मुलायम सिंह यादव


विश्व हिंदू परिषद (विहिप) की 84 कोसी परिक्रमा पर मचे विवाद की आंच सोमवार को संसद तक पहुँच गई. समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह ने इस मसले को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा राजनीतिक फायदे के लिए दंगों का माहौल बना रही है. उन्होंने यह भी कहा कि खिसियाई भाजपा अब गुंडागर्दी करने पर उतर आई है.

मुलायम ने कहा कि भाजपा वोट हासिल करने के लिए दंगे करवाने की साजिश रच रही है और कोर्ट के आदेश का पालन भी नहीं कर रही है. उन्होंने पूछा कि भाजपा हर बार चुनावों से पहले ही क्यों अयोध्या का मुद्दा उठाती है. उन्होंने यह भी कहा कि परिक्रमा में सफल नहीं होने पर भाजपा के लोगों ने रविवार को सपा कार्यालय में तोड़फोड़ भी की.

उन्होंने कहा कि 84 कोसी परिक्रमा को लेकर भाजपा और विहिप लोगों को बरगलाने का काम कर रही है, जबकि हकीकत यह है कि किसी भी विहिप नेता की पिटाई नहीं हुई है. दरअसल उन्हें जनता का साथ ही नहीं मिला इसीलिए इनकी हालत "खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे" वाली हो गई है.

मुलायम का आरोपों पर पलटवार करते हुए गोरखपुर से भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार को बर्खास्त किया जाना चाहिए क्योंकि अयोध्या में संतो का अपमान हुआ है. उन्होंने यह भी कहा कि इस परिक्रमा में कोई भी राजनीतिक पार्टी शामिल नहीं है, मुलायम सिर्फ लोगों को बेवकूफ बनाने का काम कर रहे हैं.

उन्होंने समाजवादी पार्टी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मुलायम किस समाजवाद की बात करते हैं उनकी पार्टी तो खुद ही परिवारवाद का जीता जागता उदाहरण है. मुलायम खुद पार्टी के अध्यक्ष हैं, दो भाई महासचिव हैं, बेटा मुख्यमंत्री है तो ये कैसा समाजवाद है.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in