पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

सोनिया गांधी को अमरीकी अदालत से समन

फिर पेट्रोल में लगी आग

नई दिल्ली. 13 सितंबर 2013

पेट्रोल


पेट्रोल की कीमत में शुक्रवार आधी रात से 1.63 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोत्तरी कर दी गई है. इसमें राज्यों द्वारा लगाया जाने वाला कर शामिल नहीं है. यह घोषणा सरकारी कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) ने की है. कंपनी ने कहा है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में अंतर्राष्ट्रीय मोटर स्पिरिट (एमएस) की कीमत बढ़ने और रुपये की कीमत में अस्थिरता के कारण कीमत बढ़ानी पड़ी है.

मौजूदा कारोबारी साल की शुरुआत से रुपये में डॉलर के मुकाबले 25 फीसदी तक कमजोरी आ चुकी है. अभी यह डॉलर के मुकाबले 63.36 के स्तर पर है. 28 अगस्त को इसने 68.85 का ऐतिहासिक निचला स्तर छू लिया था.

रुपये के मूल्य में होने वाले उतार-चढ़ाव का असर देश की कच्चे तेल के आयात करने की क्षमता पर दिखाई पड़ती है. अभी देश अपनी जरूरत के 80 फीसदी तेल का आयात करता है. कंपनी ने कहा कि रुपये और डॉलर की विनिमय दर तथा मोटर स्पिरिट के मूल्य में स्थिरता आने के बाद कीमत वापस घटा दी जाएगी.

कंपनी ने एक बयान में कहा, "अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमत और रुपया-डॉलर विनिमय दर पर लगातार नजर रखी जा रही है और जो भी घटनाक्रम हो रहा है, उसका असर आगे की कीमत में शामिल कर लिया जाता है."

इससे पहले तीन सरकारी तेल कंपनियों ने एक सितंबर को कीमत बढ़ाई थी. तब पेट्रोल और डीजल की कीमत में 2.35 रुपये तथा 0.50 रुपये प्रति लीटर वृद्धि की गई थी.

शुक्रवार आधी रात से दिल्ली में पेट्रोल की कीमत प्रति लीटर बढ़कर 76.06 रुपये हो जाएगी. मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में यह क्रमश: 83.62 रुपये, 79.55 रुपये और 83.63 रुपये हो जाएगी.