पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

मोदी भाजपा के पीएम प्रत्याशी घोषित

मोदी भाजपा के पीएम प्रत्याशी घोषित

नई दिल्ली. 13 अगस्त 2013

मोदी


गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनावों के लिए प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी (पीएम इन वेटिंग) घोषित कर दिया है. भाजपा संसदीय बोर्ड ने अपने इस कदम से मोदी विरोध का झंडा बुलंद किए हुए कद्दावर नेता लालकृष्ण आडवाणी और उनके सिपहसालारों की तमाम आपत्तियों को पूरी तरह दरकिनार कर दिया.

उधर इस फैसले से आहत आहत आडवाणी ने भी पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह को चिठ्ठी लिखकर जता दिया कि वे उनके कामकाज के तरीके से बिल्कुल खुश नहीं है.

शुक्रवार को राजनाथ सिंह ने पार्टी मुख्यालय में हुई संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन में मोदी के नाम की औपचारिक घोषणा की. इससे पहले संसदीय बोर्ड की बैठक को लेकर पार्टी मुख्यालय में उत्सव जैसा नजारा था. संसदीय बोर्ड की बैठक में लोकसभा और राज्य सभा के नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज और अरुण जेटली ने तो हिस्सा लिया, लेकिन आडवाणी ने अंतिम समय पर बैठक में शामिल होने से इंकार कर दिया.

औपचारिक घोषणा के बाद आत्मविश्वास से भरे नरेंद्र मोदी ने दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की सत्ता पर पार्टी की वापसी सुनिश्चित करने के लिए हर कुछ करने का वचन दिया. उन्होने कहा "मैं वादा करता हूं कि 2014 के चुनाव में भाजपा विजयी होकर उभरेगी. इसके लिए पार्टी को कड़ी मेहनत करनी होगी और हम कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे."

राजनाथ ने कहा कि भाजपा मे हमेशा ही चुनाव से पहले प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी की घोषणा की जाती रही है. अगले आम चुनाव के लिए किसे प्रत्याशी बनाया जाए इस पर विचार करने के लिए हमने शुक्रवार को संसदीय बोर्ड की बैठक बुलाई थी जिसमें इस मुद्दे पर विचार किया गया.

राजनाथ ने कहा, "जनता की भावना को देखते हुए हमने मोदी को प्रधानमंत्री का प्रत्याशी बनाने का फैसला लिया." राजनाथ ने घोषणा के बाद मोदी को संसदीय बोर्ड की तरफ से बधाई दी.

घोषणा के बाद मोदी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि एक साधारण परिवार और कस्बे में जन्मे व्यक्ति को देश की जिम्मेदारी सौंपी है. उन्होंने कहा कि देश संकट के दौर से गुजर रहा है. उन्होंने कहा, "मुझे उम्मीद है कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक के लोग कमल चुनाव चिन्ह को वोट देंगे."

इस दौरान आडवाणी की बैठक से दूरी बनाए रखने का कारण छिपाते हुए राजनाथ ने कहा, "मैं आप लोगों को बता दूं कि आडवाणी जी का आशीर्वाद लेने के लिए मोदी जी जा रहे हैं."

राजनाथ सिंह ने दावा किया कि भाजपा के इस फैसले से एनडीए के सभी घटक दल सहमत हैं और सभी ने मोदी को प्रत्याशी बनाए जाने का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि सभी घटक दलों के अध्यक्षों से बातचीत की गई है. इसी से जुड़ो एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में मोदी को नामित किए जाने के तुरंत बाद ही कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और कर्नाटक जनता पार्टी के नेता बी. एस. येदियुरप्पा ने पार्टी में वापसी का संकेत दिया.

इससे पहले मोदी के नाम पर सहमति बनाने के लिए राजनाथ सिंह दो दिनों तक जोशोखरोश से जुटे रहे. मोदी के नाम पर कन्नी काट रहे नेताओं को मनाने के लिए मेलमुलाकातों का दौर चलता रहा. उधर मोदी को प्रत्याशी बनाए जाने की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली, गुजरात व अन्य कई राज्यों में भाजपा कार्यकर्ताओं ने उत्सव मनाया.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in