पहला पन्ना >आधी >अमरीका Print | Share This  

मिस अमरीका नीना पर हमला

मिस अमरीका नीना पर हमला

न्यूयॉर्क. 17 सितंबर 2013

नीना दावुलुरी


भारतीय मूल की मिस अमरीका चुनी गई नीना दावुलुरी को अमरीका में भारी आलोचना का शिकार होना पड़ रहा है. उनके खिलाफ सोशल साइट्स पर नस्लीय टिप्पणियां हो रही हैं.

हालांकि नीना ने करारा जवाब देते हुये कहा है कि अगर वो अरब की रहने वाली भी होतीं तो क्या फर्क पड़ता. नफरत करने वाले सिर्फ नफरत ही करेंगे, लेकिन सच ये है कि मैं मिस अमेरिका हूं.

गौरतलब है कि नीना के पिता दावुलुरी धन कोटेश्वर चौधरी 1970 के करीब भारत से अमरीका जाकर बस गए थे. वहीं पर नीना का लालन-पालन हुआ और एक दिन पहले उन्हें 53 सुंदरियों में से मिस अमेरिका 2014 चुना गया. इसके बाद से अमरीका के कुछ नस्लवादी उनके खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी कर रहे हैं.

नीना के खिलाफ ट्वीटर पर लोगों ने कहा था कि मिस अमरीका, तुम न्यूयॉर्क से बाहर जाओ. तुम्हारी शक्ल आतंकियों जैसी है. दूसरे ने लिखा, मुबारक हो अल-कायदा. हमारी मिस अमेरिका तुममें से ही एक है. कुछ ने लिखा कि अल कायदा को आखिर मिस अमरीका कैसे चुना गया.

अब नीना ने ऐसे लोगों को जवाब देते हुये कहा है कि मैं ऐसी आलोचनाओं की परवाह नहीं करने वाली. मैं अमरीकी हूं और इसके लिये मुझे किसी नस्लवादी से प्रमाणपत्र की ज़रुरत नहीं है. नीना का कहना है कि वे इस तरह की आलोचनाओं से डरने वाली नहीं हैं. उन्होंने कहा कि मेरे लिये हरेक मनुष्य एक जैसा है और उसे श्वेत-अश्वेत में बांटना एक खास किस्म की राजनीति का हिस्सा है.