पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >छत्तीसगढ़ Print | Share This  

बाबा रामदेव की बजती रहेगी बैंड

बाबा रामदेव की बजती रहेगी बैंड

रायपुर. 10 अक्टूबर 2013

बाबा रामदेव


बाबा रामदेव के खिलाफ छत्तीसगढ़ चुनाव आयोग का अभियान जारी रहेगा. छत्तीसगढ़ चुनाव आयोग ने अब राज्य के दूसरे जिलों से भी रामदेव की सभाओं की रिपोर्ट और रिकार्डिंग मांगी है. अभी तक चुनाव आयोग ने कांकेर जिले की रिपोर्ट मिलने के बाद बाबा रामदेव की सभा का खर्चा भाजपा प्रत्याशी के खाते में डालने के निर्देश दिये हैं.

छत्तीसगढ़ के मुख्य चुनाव अधिकारी सुनील कुजूर ने कहा है कि रिपोर्ट में अगर यह बात साबित होती है कि उन्होंने चुनाव प्रचार किया है तो उनके खिलाफ कार्रवाई करने से चुनाव आयोग पीछे नहीं हटेगा.

गौरतलब है कि बाबा रामदेव पिछले सप्ताह भर से छत्तीसगढ़ में दीक्षा शिविर के नाम पर नरेंद्र मोदी और रमन सिंह का प्रचार कर रहे थे. राहुल गांधी और सोनिया गांधी के खिलाफ चीनी ड्रैगन की तरह आग उगलने वाले रामदेव के खिलाफ कुछ राजनीतिक दलों ने शिकायत की तो रामदेव दिल्ली लौट गये. हालांकि रामदेव जब रायपुर एयरपोर्ट पर पहुंचे तो वहां महिलायें उनके लिये लाल सलवार, चुड़ियां और बिंदी लेकर पहुंच गईं. बाबा रामदेव बड़ी मुश्किल से वहां से दौड़ते भागते एयरपोर्ट के अंदर घुस पाये.

इसके बाद चुनाव आयोग ने सख्ती बरती और बाबा रामदेव ने जिन 15 विधानसभाओं में भाजपा का प्रचार किया था, वहां के कलेक्टरों से रिपोर्ट मांगी. कांकेर जिले में जब यह बात कलेक्टर की रिपोर्ट में साफ हो गई कि बाबा ने भाजपा का प्रचार किया है, तो चुनाव आयोग ने बाबा रामदेव की उस सभा का खर्चा भाजपा प्रत्याशी के चुनाव खर्चे में जोड़ने का आदेश दे दिया.

माना जा रहा है कि बाबा रामदेव के खिलाफ दूसरे जिलों से भी अगर रिपोर्ट मिलती है तो उनका सारा खर्चा भी भाजपा के चुनाव खर्चे में जोड़ दिया जायेगा. इधर कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि बाबा रामदेव के छत्तीसगढ़ प्रवेश पर रोक लगनी चाहिये क्योंकि बाबा रामदे राज्य का माहौल खराब कर रहे हैं.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in