पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

नारायण साईं ने पेश की सफाई

नारायण साईं ने पेश की सफाई

सूरत. 10 अक्टूबर 2013

नारायण साईं


बलात्कार के आरोप में घिरे नारायण साईं ने खुद को निर्दोष बताते हुए कहा है कि उन्हें फंसाया जा रहा है. आरोप लगने के बाद से गायब चल रहे नारायण साईं ने सूरत के दो अखबारों में विज्ञापन में देकर अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि वह भागने वालों में से नहीं है. साईं का विज्ञापन गुजराती भाषा में उनके वकील कल्पेश देसाई के माध्यम से गुरुवार को छपा है.

इन विज्ञापनों में साईं के वकीलों द्वारा कहा गया है कि उनके मुवक्किल नारायण साईं और उनके पिता आसाराम बापू निर्दोष हैं और उन पर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं. इस इश्तहार में यह भी लिखा गया है कि उन पर लगाए जा रहे आरोप इतने साल बाद गलत तरीके से खड़े किए जा रहे हैं जो कि पूरी तरह से बेबुनियाद हैं और ऐसा किसी के इशारे पर हो रहा है.

विनती के तौर पर लिखे इस इश्तहार में कहा गया है कि वे इसके लिए जरूरी कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए तैयार है और उनकी मंशा भागने की नहीं है. साथ ही सत्य को सामने लाने के लिए वे उच्च न्यायालय, सुप्रीम कोर्ट या किसी भी मानवाधिकार मंच तक जाने के लिए तैयार हैं.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले सूरत की दो सगी बहनों ने यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार चल रहे आसाराम और उनके पुत्र नारायण साईं पर बलात्कार का मामला दर्ज कराया है. मामले में आसाराम की पत्नी लक्ष्मी और पुत्री भारती पर भी उनका साथ देने के आरोप लगे थए.

पुलिस में मामला दर्ज होने के बाद से नारायण साईं अपने परिवार समेत गायब चल रहे हैं. सूरत पुलिस ने इस मामले में साईं के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर दिया है और कहा है कि अगर साईं दो दिन के अंदर पुलिस के पास नहीं पहुँचते हैं तो उनके नाम पर वारंट जारी कर दिया जाएगा. पुलिस ये भी मानकर चल रही है कि नारायण साईं नेपाल भाग सकते हैं इसीलिए पुलिस की एक पार्टी बिहार स्थित नेपाल बॉर्डर भी भेजी गई है.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in