पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

आसाराम के खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल

आसाराम के खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल

जोधपुर. 6 नवंबर 2013

आसाराम बापू


राजस्थान पुलिस ने कथावाचक आसाराम के खिलाफ जोधपुर की एक अदालत में आरोप पत्र दाखिल कर दिया है. चार्जशीट के हिसाब से आसाराम को कम से कम दस वर्ष और अधिकतम आजीवन कारावास की सजा हो सकती है. चार्जशीट पेश होने के बाद सुनवाई 16 नवंबर तक टाल दी गई.

उल्लेखनीय है कि करीब दो माह पहले एक नाबालिग लड़की ने आसाराम के खिलाफ पुलिस में यौन उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराई थी जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था.

राजस्थान पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "जिला एवं सत्र न्यायाधीश (जोधपुर ग्रामीण) की अदालत में आसाराम और उसके चार सहयोगियों के खिलाफ 1000 से ज्यादा पृष्ठों का आरोप पत्र दायर किया गया है."

अधिकारी ने कहा कि आरोपियों पर भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं और बाल यौन अपराध संरक्षण कानून के तहत आरोप लगाया गया है. सूत्रों ने कहा कि पुलिस ने आरोप पत्र में 140 गवाहों और अन्य सबूतों को शामिल किया है.

20 अगस्त को एक 16 वर्षीया किशोरी ने नई दिल्ली के एक थाने में आसाराम (72) पर अपने जोधपुर स्थित आश्रम में उसके साथ यौन हमला करने की शिकायत दर्ज कराई थी.

अपनी शिकायत में लड़की ने कहा था कि आसाराम के सहयोगियों ने उसे बुरी आत्माओं के प्रभाव से मुक्त होने के लिए जोधपुर आश्रम भेजा था जहां वे तंत्र करने वाले थे. इसके बाद पुलिस ने आसाराम को मध्य प्रदेश के इंदौर स्थित आश्रम से गिरफ्तार किया और 1 सितंबर को जोधपुर लाया गया.