पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

कैश फॉर वोट: अमर सिंह को राहत

कैश फॉर वोट: अमर सिंह को राहत

नई दिल्ली. 21 नवंबर 2013

अमर सिंह


बहुचर्चित कैश फॉर नोट मामले में दिल्ली की तीस हज़ारी कोर्ट ने समाजवादी पार्टी के पूर्व महासचिव अमर सिंह समेत भाजपा के पाँच नेताओं को आरोप मुक्त कर दिया है.

शुक्रवार को अदालत में विशेष न्यायाधीश नरोत्तम कौशल ने राज्यसभा सांसद अमर सिंह, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के करीबी सहयोगी सुधींद्र कुलकर्णी, भाजपा नेताओं अशोक अर्गल, फग्गन सिंह कुलस्ते, महाबीर सिंह भोगरा और भाजपा कार्यकर्ता सोहेल हिंदुस्तानी को सभी दोषों से मुक्त कर दिया है.

बहरहाल, अदालत ने अमर सिंह के पूर्व सहयोगी संजीव सक्सेना के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला तय किया है.

उल्लेखनीय है कि 22 जुलाई, 2008 को भाजपा सांसदों -फग्गन सिंह कुलस्ते, महावीर भगोरा और अशोक अर्गल ने विश्वास मत के ठीक पहले संसद में नोटों की गड्डियां लहराकर दावा किया था कि मनमोहन सरकार के पक्ष में वोट देने के लिए उनको पैसे दिए गए थे.

इस पूरे मामले की एक संसदीय समिति ने जांच की जिसके बाद साल 2009 में पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज किया. जिसके बाद भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों के तहत और भारतीय दंड संहिता के तहत आपराधिक साजिश का मामला दर्ज किया गया.